कोरोना काल में नया संकट: डॉक्टर, बीपीएम, नर्स, फार्मासिस्ट सहित 31 NHM कर्मचारी हड़ताल पर

54

कोरोना काल में नया संकट: डॉक्टर, बीपीएम, नर्स, फार्मासिस्ट सहित 31 एनएचएम कर्मचारी हड़ताल पर

मो. इमरान खान @ भोपालपटनम। कोरोना संकट के बीच एक नया संकट खड़ा हो गया है। एनएचएम के 31 संविदा कर्मचारियों ने बीएम को ज्ञापन सौंपकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। प्रमुख मांगों में वेतन बढ़ोत्तरी और 62 साल तक सेवा की मांग शामिल है।

बताया गया है कि इस निर्णय में पूरे प्रदेश के 13 हजार कर्मचारी शामिल है। कर्मचारियों ने कहा है कि आज कोरोना काल मे हम जी जान लगाकर और अपनी जीवन को भी दांव में लगाकर सेवा दे रहे हैं। इसके बावजूद हमारी मांगों को अनसुना किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें :  भोपालपटनम में कांग्रेस की आंधी, सभी 15 वार्डों में जीते प्रत्याशी... भैरमगढ़ में भी कांग्रेस ने मारी बाजी, BJP की करारी हार

Read More: कोरोना के डर से हॉस्पिटल से गायब हुए मरीज ! मेडिकल टीम ने शुरू किया डोर टू डोर सर्वे 

आंदोलनरत संविदा कर्मचारियों के मुताबिक, हमारी मांगों को लेकर शासन लगातार अनदेखी कर रही है। हमारे कर्मचारी वर्तमान में कोरोना जाँच सेम्पल के अलावा संक्रमितों की संख्या व कम्प्यूटर आपरेटर द्वारा रोजाना रिर्पोटिंग भी तैयार किया जाता है।

बता दें कि कोरोना संकट के समय मरीजों की देखभाल, सफाई कर्मी, कुक व फीवर क्लीनिक सँभालने वाली नर्सें, दवा आदि का हिसाब रखने वाले फार्मासिस्ट समेत हर तरह का काम संविदा कर्मचारियों के भरोसे ही चल रहा है। ऐसे में इन कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने से स्वास्थ विभाग का कामकाज प्रभावित हो सकता है।

यह भी पढ़ें :  एक लाख के इनामी जनमिलिशिया कमांडर ने किया सरेंडर, चोलनार ब्लास्ट सहित कई वारदातों में रहा शामिल

Read More: 

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…