कोरोना के खतरे के बावजूद सुधरने का नाम नहीं ले रहे लोग… अब तक 3 लाख रूपए का वसूला गया अर्थदण्ड

47

कोरोना के खतरे के बावजूद सुधरने का नाम नहीं ले रहे लोग… अब तक 3 लाख रूपए का वसूला गया अर्थदण्ड

पंकज दाऊद @ बीजापुर। कोरोना संकट में सारी सरकारी चेतावनी एवं समझाईश के बावजूद जिला मुख्यालय में रहने वाले बाशिंदे सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं और पूरी तरह ऐहतियात नहीं बरत रहे हैं। ऐसे ही शहरियों ने अब तक करीब 3 लाख रूपए का अर्थदण्ड पटाया है।

लोगों को कोरोना से बचाव के लिए सामाजिक दूरी बनाने, मास्क पहनने, सेनेटाइजर का इस्तेमाल करने एवं बेवजह घर से ना निकलने की समझाईश कई बार दी गई लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं, जिन्हें इस समझाईश और चेतावनी का असर नहीं पड़ा है।

यह भी पढ़ें :  दंतेवाड़ा में आज सुबह से तालाबंदी, 8 दिनों के संपूर्ण लॉकडाउन का आदेश जारी... नगर पालिका क्षेत्र कंटेनमेंट जोन घोषित, जानिए क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

Read More: पुलिस लाइन में जवान की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में निकला कोरोना… जगदलपुर जाते वक्त रास्ते में हुई मौत

पालिका के सीएमओ पवन कुमार मेरिया ने बताया कि मंगलवार की स्थिति तक दुकानदारों और आम लोगों से 2,97,980 रूपए का जुर्माना वसूल किया गया है। मास्क एवं सामाजिक दूरी के मामले में 1504 लोगों से 1,78,110 रूपए वसूल किए गए जबकि 387 दुकानदारों से 1,13820 रूपए लिए गए।

सीएमओ पवन मेरिया ने बताया कि 420 होटल एवं खोमचे वालों से अब तक 5020 रूपए का जुर्माना वसूल किया गया। बताया गया है कि कुछ ऐसे भी दुकानदार हैं जिनसे एक से अधिक बार अर्थदण्ड वसूल किया गया।

यह भी पढ़ें :  मुठभेड़ में मारा गया 3 लाख का इनामी नक्सली, सेक्शन कमांडर को जवानों ने किया था ढेर

नगर में 4646 मकान, 2598 का सर्वे

सीएमओ पवन कुमार मेरिया ने बताया कि नगरपालिका क्षेत्र में 464़6 मकान हैं और कोरोना के लिए मरीजों का पता लगाने अब तक 2598 मकानों का सर्वे हो गया है। इनमें से केवल 19 लोग ही सर्दी खांसी के मरीज निकले। इनके नाम बीएमओ को भेज दिए गए हैं।

Read More: कोरोना के नाम पर किडनी निकाले जाने की अफवाह ! आदिवासियों ने निकाली रैली… CMHO और डाॅक्टरों को बदलने की मांग

यह भी पढ़ें :  केशकुतूल मुठभेड़ में मारा गया था नक्सलियों का सेक्शन कमाण्डर... माओवादियों ने पर्चा जारी कर की पुष्टि, हमले में शहीद हुए थे 3 जवान

जिला मुख्यालय के हर वार्ड में एक-एक टीम सर्वे कर रही है। इसमें शिक्षक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं पालिका के कर्मचारी शामिल हैं। सीएमओ ने बताया कि हर घर से मोबाइल नंबर लिया जा रहा है ताकि बीच-बीच में उनसे संपर्क किया जा सके।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…