चार डाॅक्टरों समेत 13 की नौकरी गई, NHM कर्मियों की हड़ताल पर प्रशासन की सख्ती… हड़ताली कर्मचारी बोले, कोई नहीं करेगा ज्वाइन

57

चार डाॅक्टरों समेत 13 की नौकरी गई, NHM कर्मियों की हडताल पर प्रशासन की सख्ती… हड़ताली कर्मचारी बोले, कोई नहीं करेगा ज्वाइन

पंकज दाऊद @ बीजापुर। जिले में रेग्यूलर किए जाने की मांग को ले बेमियादी आंदोलन पर चले गए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के 205 में से 4 डाॅक्टरों समेत 13 कर्मियों की सेवा समाप्त कर दी गई है।

कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने 23 सितंबर को शाम 5 बजे तक इन्हें काम पर लौट आने का आदेश जारी किया था। लेकिन आदेश का पालन नहीं किए जाने की स्थिति में इसे अनुशासनहीनता मानते हुए उक्त कार्रवाई की गई।

यह भी पढ़ें :  जगदलपुर में होम आइसोलेशन पर रही महिला की संदिग्ध मौत, पुलिस ने इलाके को किया सील

ये हुए बर्खास्त

एनएचएम के बर्खास्त कर्मियों में गैर संचारी रोग विभाग के रविकांत पुनेठा, संचारी रोग सलाहकार किशन कुमार मरावी, खण्ड परियोजना प्रबंधक योगेश भगत, दीपक देवांगन, यालम भास्कर, श्रवण नेताम, मेडिकल अफसर डाॅ सजल बाफना, ब्लाॅक डैटा मैनेजर एम नागेश्वर राव, देवेन्द्र नेताम, मेडिकल अफसर डाॅ राहुल कोमरे, डैटा एंट्री आपरेटर टोपेश निषाद, आरएमए दिवाकर जायसवाल एवं नीलकण्ठ जोशी शामिल हैं।

कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने अपने आदेश में कहा है कि एनएचएम के संविदा कर्मचारी नियमितीकरण की मांग को ले हड़ताल पर हैं। उनसे हड़ताल का निर्णय वापस लेने एवं गंभीरतापूर्वक दायित्वों का निर्वहन करने कहा गया था। इसके बाद भी निर्देशों की अवहेलना की गई।

यह भी पढ़ें :  बस्तर में जल्द खुलेगा पासपोर्ट दफ्तर, रायपुर तक नहीं लगानी पड़ेगी दौड़

Read More: नक्सली वारदात: पत्नी को जान से मारने की धमकी दी और घर के सामने ही किसान की कर दी हत्या… दो दिन पहले ही वारंगल से लौटा था मृतक

सीएमएचओ की रिपोर्ट में इन कर्मियों को गैर हाजिर पाया गया। राज्य कोविड-19 महामारी में राज्य सक्रियता से लड़ रहा है। ऐसे में ऐसा कृत्य अनुचित है। ये अनुशासनहीनता एवं लापरवाही है।

Read More:

 

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में हुई 'गोबर' की चोरी ! किसानों के बाड़े से गायब हुआ गोबर, गौठान समिति ने शुरू की जांच

कलेक्टर ने सीएमएचओ को आदेश की तामिली करवाने कहा है। इस आदेश की प्रति अपर मुख्य सचिव, आयुक्त स्वास्थ्य सेवाएं, एनएचएम के मिशन संचालक, उप संचालक एवं सीएमएचओ को दी गई है।

कोई नहीं करेगा ज्वाइन- अध्यक्ष

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष रविकांत पुनेठा ने कहा है कि कोई भी कर्मचारी ज्वाइनिंग नहीं देगा। संगठन की मांग जायज है। ये हड़ताल जारी रहेगी। संगठन के सभी कर्मचारियों की राय एक है।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…