जिले में 3 दिनों तक थण्डरस्टाॅर्म का अंदेशा, गरज-चमक के साथ होगी बारिश

47

जिले में 3 दिनों तक थण्डरस्टाॅर्म का अंदेशा, गरज-चमक के साथ होगी बारिश

पंकज दाऊद @ बीजापुर। जिले में आने वाले तीन दिनों तक थण्डरस्टाॅर्म का अंदेशा बना रहेगा यानि गरज-चमक के साथ तीन दिनों तक बारिश होगी। ये मौसम विभाग का पूर्वानुमान है।

कृषि विज्ञान केन्द्र के मौसम वैज्ञानिक भीरेन्द्र कुमार ने बताया कि 10, 11 एवं 12 सितंबर को जिले में गरज-चमक के साथ बारिश का पूर्वानुमान है। उनके मुताबिक इस साल पहली जनवरी से नौ सितंबर तक 2064.50 मिमी बारिष हुई जबकि पिछले साल संगत अवधि में ये आंकड़ा 1935.50 मिमी था यानि इस साल अब तक 129 मिमी ज्यादा बारिश दर्ज की गई है।

यह भी पढ़ें :  नक्सलियों ने स्कूली छात्र को अगवा कर उतारा मौत के घाट... मुखबिरी के शक में की हत्या, दहशत ऐसी कि पुलिस तक नहीं पहुंचे परिजन

कृषि वैज्ञानिकों ने धान के मेड़ को बांधने की सलाह किसानों को दी है। सब्जी के लिए निकासी की व्यवस्था करने भी कहा गया है। कृषि विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख अरूण संकनी ने बताया कि जिले में कुछ स्थानों में धान में झुलसा रोग एवं लीफ फोल्डर कीट का प्रकोप देखा गया है लेकिन ये अभी चिंताजनक नहीं है। ये नियंत्रण में है।

Read More:

उन्होंने बताया कि लीफ फोल्डर बीमारी में कीट पत्ती के अंदर घुस जाता है और क्लोरोफिल खाने लगता है और इससे पत्तियां गिर जाती हैं और बाकि पत्तियां सफेद हो जाती हैं। इससे उत्पादन पर असर पड़ता है। दवा से इसे नियंत्रित किया जाता है। उन्होंने बताया कि झुलसा रोग भी कहीं-कहीं देखने को मिल रहा है। ये भी नियंत्रण में है।

यह भी पढ़ें :  CM भूपेश बघेल 600 करोड़ के विकास कार्यों की देंगे सौगात‚ स्वागत के लिए दंतेवाड़ा सजकर तैयार... जानिए सीएम के दौरे का मिनट–टू–मिनट कार्यक्रम

Read More: SBI ब्रांच में कोरोना विस्फोट, 14 में से 9 कर्मचारी निकले पाॅजीटिव… ऑटो पार्ट्स की 2 दुकानें सील, शिक्षक व सचिव की कोरोना से मौत

कृषि विभाग के सहायक संचालक सत्यजीत सिंह कंवर ने बताया कि जिले में धान की सौ फीसदी बोनी हो गई है। दलहनी फसलों की बोनी शुरू हो रही है। उड़द एवं मूंग की बोनी अक्टूबर में होगी। उन्होंने बताया कि भोपालपटनम ब्लाॅक में बोनी देर से होती है और इस वजह से वहां कुछ स्थानों पर बंकी कीट का प्रकोप देखा गया है। उन्होंने बताया कि मैदानी अमला किसानों तक पहुंच उन्हें समसामयिक सलाह दे रहा है।

यह भी पढ़ें :  जब बच्चे के कहने पर CM भूपेश ने 'रस्सी कूद' कर दिखाया... भौंरा और गिल्ली डंडा में भी आजमाया हाथ