भूपेश सरकार को बदनाम करने केन्द्र की अडंगेबाजी… कांग्रेसी बोले ‘बारदाने नहीं भेजे, 900 करोड़ दिए जाने की बात झूठी’

27

भूपेश सरकार को बदनाम करने केन्द्र की अडंगेबाजी… कांग्रेसी बोले ‘बारदाने नहीं भेजे, 900 करोड़ दिए जाने की बात झूठी’

पंकज दाऊद @ बीजापुर। कांग्रेसियां ने आरोप लगाया है कि भूपेश सरकार को बदनाम करने केन्द्र सरकार छग के हक का पैसा नहीं दे रही है और लगातार अड़ंगेबाजी कर रही है। केन्द्र की राज्य को 900 करोड़ रूपए दिए जाने की बात झूठी है। भूपेश सरकार को बदनाम करने और किसानों को परेशानी में डालने मोदी सरकार बारदाने उपलब्ध नहीं करवा रही है।

यहां पत्रकार भवन में बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं विधायक विक्रम शाह मण्डावी, प्रदेश कांग्रेस कमेटी की महासचिव जिला प्रभारी रूक्मिणी कर्मा एवं जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष लालू राठौर ने संयुक्त पत्र वार्ता लेकर धान खरीदी पर राज्य सरकार की स्थिति साफ की।

यह भी पढ़ें :  नगर पंचायत चुनाव: भाजपा ने शुरू की तैयारी, कांग्रेस की रफ्तार सुस्त... पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने भोपालपटनम में ली बैठक, कार्यकर्ताओं में भरा जोश

विधायक विक्रम मण्डावी ने कहा कि धान का उठाव नहीं होने देने केन्द्र पत्र जारी नहीं कर रही है। इससे किसानों की परेशानी बढ़ेगी। केन्द्र की ओर से अपेक्षित सहयोग नहीं मिलने का आरोप मढ़ते विधायक ने कहा कि केन्द्र ने पर्याप्त बारदाना इसलिए नहीं भेजा है क्यांकि किसान परेशान हों और भूपेश सरकार की अड़चनें कायम रहें।

केन्द्र से भूपेश सरकार ने लोकतांत्रिक तरीके से छग का हक मांगा लेकिन केन्द्र ऐसा नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि इन बातों को लेकर कांग्रेस कमेटी ब्लॉक स्तर से जिला स्तर तक आंदोलन करेगी। मोदी सरकार की छग को उपेक्षित किए जाने के बारे में कांग्रेस आंदोलन के मार्फत जनता को बताएगी।

यह भी पढ़ें :  5 मई तक बढ़ा लाॅकडाउन, राशन और दवाओं की हो सकेगी होम डिलीवरी

पत्रवार्ता में जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुड़ियम, सदस्य नीना रावतिया उद्दे, पीसीसी सचिव अजय सिंह, कांग्रेस लीडर लच्छूराम मोड़ियाम, मनोज अवलम, रमेश यालम, संतोष गुप्ता, बब्बू राठी एवं अन्य कांग्रेसी मौजूद थे।

1.45 लाख ही बारदाने मिले

प्रदेष कांग्रेस महासचिव रूक्मिणी कर्मा ने बताया कि सीएम भूपेश बघेल ने मोदी सरकार से साढ़े तीन लाख बारदाने की मांग की थी लेकिन सिर्फ एक लाख पैंतालिस हजार बारदाने ही दिए गए। ऐसा कर मोदी सरकार किसानों के साथ अन्याय कर रही है। मोदी सरकार का मकसद भूपेष सरकार को बदनाम करना है। इसके बावजूद भूपेष सरकार किसानों तक माकूल बारदाने पहुंचाने की कोशिश कर रही है।

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़-तेलंगाना बार्डर पर पुलिस-नक्सली मुठभेड़… 3 माओवादियों के मारे जाने की खबर

ज्यादा धान खरीदा गया

जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष लालू राठौर ने कहा कि 2018-19 में भूपेश सरकार ने 80 लाख मेट्रिक टन धान की खरीदी की जो 2019-20 में बढ़कर 83 लाख मेट्रिक टन हो गया। इस साल 90 लाख मेट्रिक टन धान खरीदी का टारगेट है।

लालू राठौर ने आरोप लगाया कि छग में भाजपाई सांसद इस बात की अनदेखी कर रहे हैं जबकि छग के किसानों के हित की ही बात हो रही है। भाजपा नेता झूठ का सहारा लेकर किसानों को भड़का रहे हैं।