DGP की सख्ती का असर: ट्रांसफर रुकवाने में लगे 3 पुलिस अधिकारी सस्पेंड… DSP को कारण बताओ नोटिस, 60 कर्मचारी एकतरफा रिलीव

81
3 police officers suspended after rigor of DGP

DGP की सख्ती का असर: ट्रांसफर रुकवाने में लगे 3 पुलिस अधिकारी सस्पेंड… DSP को कारण बताओ नोटिस, 60 कर्मचारी एकतरफा #रिलीव

रायपुर @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के डीजीपी डीएम अवस्थी की नाराजगी और सख्त निर्देश के बाद स्थानांतरित हुए लगभग 60 पुलिस अधिकारियों, कर्मचारियों को संबंधित पुलिस अधीक्षकों ने मंगलवार को कार्यमुक्त कर दिया।

Read More:

बता दें कि डीजीपी के निर्देश पर ट्रांसफर के बाद भी नए पदस्थापना पर ज्वाईन नहीं करने वाले 12 पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई है। जिसके तहत एक डीएसपी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है, वहीं 3 अधिकारियों को सस्पेंड किया गया है।

यह भी पढ़ें :  सुकमा में 3 घंटे से मुठभेड़ जारी, DRG के जवानों ने वर्दीधारी नक्सली को किया ढेर... शव व हथियार बरामद

Read More: नक्सली वारदात: पत्नी को जान से मारने की धमकी दी और घर के सामने ही किसान की कर दी हत्या… दो दिन पहले ही वारंगल से लौटा था मृतक

जिन कर्मचारियों पर निलंबन की गाज गिरी है उनमें 2 एसएसआई और एक हेड कॉन्स्टेबल शामिल हैं। बताया गया है कि कार्रवाई के बाद सभी को चार्जशीट भी सौंपी जा रही है। इसके साथ ही एक एसआई, एक स्टेनोग्राफर, 3 हेड कॉन्स्टेबल और 3 कॉन्स्टेबल को ज्वाईन नही करने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

यह भी पढ़ें :  CM के दौरे से कोंटा क्षेत्र के लोगों को मिली कई सौगातें, मुख्यमंत्री ने की ये बड़ी घोषणाएं

3 police officers suspended after rigor of DGP

DGP के सख्त तेवर से मचा हड़कंप

गौरतलब है कि डीजीपी डीएम अवस्थी ने रविवार को सभी जिलों के एसपी और इकाई प्रमुखों को निर्देश दिए थे कि ट्रांसफर के बाद जो अधिकारी रिलीव नहीं हो रहे हैं, उनके विरुद्ध तत्काल निलम्बन की कार्रवाई कर चार्जशीट सौंपी जाए। डीजीपी के इस सख्त तेवर के बाद विभाग में हड़कंप मचा है।

Read More:  सुकमा में नक्सली सप्लायर गिरफ्तार, विस्फोटक समान समेत 25 हजार रुपये बरामद

सूत्र बता रहे हैं कि बीते कुछ समय में जिन पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों के तबादले किए गए हैं, उनमें से कईयों ने ज्वाइन नहीं किया है। कई पुलिस अधिकारी-कर्मचारी रिलीव नहीं किए गए हैं तो कुछ ट्रांसफर रुकवाने की कोशिश में लगे हैं।

यह भी पढ़ें :  BREAKING: पूर्व सांसद रमेश बैस को मिली बड़ी जिम्मेदारी, त्रिपुरा के राज्यपाल बनाए गए... इन राज्यों के गवर्नर भी बदले गए

Read More:

 

पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों के इस रवैये से विभाग के रूटीन के कामकाज पर भी असर पड़ रहा है। इन शिकायतों के बाद डीजीपी अवस्थी ने रविवार को सख्त लहजे में सभी पुलिस अधीक्षकों व अन्य यूनिट प्रमुखों को साफ तौर पर निर्देश दिए थे कि जिन लोगों ने ज्वाइन नहीं किया है, उन्हें सीधे सस्पेंड करें।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…