15 अगस्त पर 5 नक्सलियों ने किया सरेंडर, काला झंडा फहराने वाले माओवादियों के हाथों में दिखा तिरंगा

60

15 अगस्त पर 5 नक्सलियों ने किया सरेंडर, काला झंडा फहराने वाले माओवादियों के हाथों में दिखा तिरंगा

के. शंकर @ सुकमा। छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में 15 अगस्त के मौके पर शनिवार को पांच नक्सलियों ने सरेंडर कर दिया है। छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास नीति व पुलिस के नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत इन माओवादियों ने आत्मसमर्पण करने का फैसला किया।

डीआईजी सीआरपीएफ व सुकमा एसपी शलभ सिन्हा के समक्ष 5 नक्सलियों ने सरेंडर किया है। आत्मसमर्पित नक्सलियों में 8 लाख के इनामी नक्सली डीवीसी मेंबर बोड्डू व्यंकटेश उर्फ राजू के अलावा 5 लाख और 1 लाख का इनामी नक्सली भी शामिल है।

यह भी पढ़ें :  नक्सलियों ने की सरपंच पति की हत्या, शादी समारोह में पहुंचे माओवादी और गोली मार दी

Read More:

 

पुलिस के मुताबिक, आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों पर आईईडी ब्लास्ट करने, हत्या, पुलिस पेट्रोलिंग पार्टी पर फायरिंग, लूट, आगजनी और रोड खोदने जैसे अपराध दर्ज हैं। पुलिस इनकी कई मामलों में तलाश कर रही थी।

इन नक्सलियों ने किया सरेंडर

आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों में बोड्डू व्यंकटेश उर्फ राजू (8 लाख का इनामी) के अलावा जगरगुंडा एलजीएस कमांडर सन्ना (5 लाख का इनामी), मडकाम सोनी प्लाटून नंबर 12 सदस्य गंगालूर एरिया कमेटी (1 लाख का इनामी), सन्ना मरकाम निवासी तोंगपाल, पोडियम देवा निवासी चिंता गुफा क्षेत्र मिलिशिया डिप्टी कमांडर शामिल है।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…
यह भी पढ़ें :  अभी बनी रहेगी ‘गुलाबी’ आफत