फर्जी नक्सली बनकर सरपंच-सचिव के घर लूटपाट करने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार… Google में देखकर बनाया नकली हथियार

3820

फर्जी नक्सली बनकर सरपंच-सचिव के घर लूटपाट करने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार… Google में देखकर बनाया नकली हथियार

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। दक्षिण बस्तर में नक्सलियों की आड़ में असामाजिक तत्व भी अब वारदातों को अंजाम देने लगे हैं। ऐसे ही एक मामले का खुलासा करते हुए दंतेवाड़ा पुलिस ने लूट के आरोपी 6 युवकों को गिरफ्तार किया है।

इन युवकों ने फर्जी नक्सली बनकर मोखपाल गांव के सरपंच और हल्बारास के पंचायत सचिव के घर लूट की वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस ने आरोपियों के पास से लूट की घटना में इस्तेमाल किए गए नकली हथियार के साथ अन्य सामान और नकद राशि बरामद की है।

बता दें कि कुआकोंडा थाना क्षेत्र के मोखपाल गांव के सरपंच विनोदी सोरी के घर में हाल ही में लूटपाट की वारदात हुई थी। रात के वक्त अज्ञात नकाबपोश काली वर्दी पहन कर घर में घुसे और सरपंच की पत्नी को धमकाते हुए अलमारी में रखे पैसे निकाल कर फरार हो गए।

यह भी पढ़ें :  CAF कैम्प पर नक्सलियों ने की फायरिंग, हमले में 4 जवान घायल

नकाबपोशों के पास हथियार भी थे और वे लगातार लाल सलाम के नारे लगा रहे थे। कुछ ऐसी ही वारदात हल्बारास गांव में भी हुई। पंचायत सचिव सुखमन राम यादव के घर में भी काली वर्दी पहले अज्ञात लोग घुसे और लूटपाट की।

इन घटनाओं के बाद मोखपाल सरपंच विनोद सोरी और हल्बारास के पंचायत सचिव द्वारा कुआकोण्डा थाने में आकर रिपोर्ट दर्ज कराई गई। जिस पर थाना कुआकोण्डा में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

यह भी पढ़ें :  IPS ट्रांसफर ब्रेकिंग: दो जिलों के बदले गए पुलिस कप्तान, ASP-DSP का भी तबादला

पुलिस ने अपनी जांच शुरू की और थाना बचेली के ग्राम दुगेली में हुई लूट के संदेही आरोपी भूषण मरकाम पिता हिड़मा मरकाम से पूछताछ की गई। पूछताछ के दौरान आरोपी ने स्वीकार किया कि उसने अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर सरपंच व सचिव के घर में लूटपाट की है।

आरोपियों ने यह भी कबूला कि उन्होंने हल्वारास और मोखपाल के आस पास 2 जगहों पर यात्री बसों को रोककर लूटपाट की है। वहीं दंतेवाड़ा कोतवाली थाना अंतर्गत बालपेट में 2 जगहों पर हुई लूट की घटना में भी इनका हाथ है।

गूगल में देखकर बनाया हथियार

पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इन्हें न्यायालय में पेश किया जाएगा। आरोपी युवकों ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि उन्होंने गूगल में देखकर हथियार बनाना सीखा और लूटपाट की घटनाओं को अंजाम देने लगे।

यह भी पढ़ें :  'मांई दंतेश्वरी' के नाम से पहचाना जाएगा जगदलपुर का एयरपोर्ट, बस्तर के जनप्रतिनिधियों की मांग पर CM ने दी सहमति

ये आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने लूट के आरोपियों भूषण मरकाम उर्फ रॉकी पिता हिड़मा मरकाम, लखन नाग पिता सोनसिंह नाग, अनंत नाग पिता सोनसिंह नाग, विशाल कुंजाम उर्फ मांझी पिता ध्रुवा कुंजाम, दीपक ठाकुर पिता महेश ठाकुर और गौरीशंकर को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने आरोपी युवकों के पास से मोबाईल 01 नग, मोटर सायकल 02 नग, केमोफ्लाईज़ टीशर्ट 03 नग, फुलशर्ट एवं पेंट 01 नग, नकली हथियार 04 नग और 2600 सौ रूपए बरामद किया है। इस मामले में पुलिस और भी पूछताछ कर रही है।