बुखार और खांसी के मरीजों का एंटीजन टेस्ट अनिवार्य, 116 में से 3 मरीजों की रिपोर्ट आई पाॅजीटिव

44

बुखार और खांसी के मरीजों का एंटीजन टेस्ट अनिवार्य, 116 में से 3 मरीजों की रिपोर्ट आई पाॅजीटिव

पंकज दाऊद @ बीजापुर। जिले में बुखार, खांसी और सर्दी के मरीजों के अलावा दीगर जिलों से आए लोगों के लिए रैपिड एंटीजन टेस्ट अनिवार्य कर दिया गया है। यहां मंगलवार को 116 लोगों का एंटीजन टेस्ट किया गया। इनमें तीन लोग पाॅजीटिव पाए गए।

सीएमएचओ डाॅ बीआर पुजारी ने बताया कि अब जिले में एंटीजन टेस्ट किट पर्याप्त है। अभी 1500 किट उपलब्ध हैं और जरूरत पड़ने पर फिर से किट मंगा लिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि हाॅस्पिटल एवं स्वास्थ्य केन्द्रों में किट उपलब्ध हैं। यहां आने वाले मरीजों की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें :  बस्तर में नक्सली हमले में CAF के दो जवान शहीद, सीआरपीएफ का एक ASI घायल

खांसी, सर्दी बुखार एवं बाहर से आने वाले लोगों की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि मंगलवार को 116 लोगों का परीक्षण किया गया। इसमें तीन लोग एंटीजन टेस्ट पाॅजीटिव पाए गए। ये बीजापुर, आवापल्ली एवं भैरमगढ़ के हैं। इनके सेंपल रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन पाॅलीमरेज चेन रिएक्शन (आरटी-पीसीआर) की जांच के लिए जगदलपुर भेजे गए हैं।

Read More:

 

यह भी पढ़ें :  कुकिंग में नंबर वन हैं भोपालपटनम के बावर्ची... बीजापुर दूसरे और भैरमगढ़ तीसरे स्थान पर

डाॅ बीआर पुजारी के मुताबिक अभी कोविड 19 हाॅस्पिटल में भर्ती मरीजों की संख्या 19 है। सीआरपीएफ के कुछ जवानों को हैदराबाद भेजा गया है। अब तक जिले में 111 कोरोना संक्रमित मिले हैं। कोविड में दाखिल कई लोग ठीक हो गए हैं। इन्हें छुट्टी दे दी गई है।

आरएटी से पुष्टि नहीं

बताया गया है कि रैपिड एंटीजन टेस्ट से कोरोना की पुष्टि नहीं होती है लेकिन इससे संकेत मिल जाता है। एंटीजन टेस्ट की रिपोर्ट आधे घंटे में आ जाती है। फिर संबंधित व्यक्ति के सेंपल को आरटी-पीसीआर के लिए जगदलपुर भेजा जाता है। वहां से रिपोर्ट आने में तीन से चार दिनों का वक्त लगता है। आरटी-पीसीआर से कोरोना की पुष्टि हो जाती है।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…
यह भी पढ़ें :  नक्सलियों ने पुलिस जवान के रिश्तेदार की हत्या की, फोन कर बुलाया और उतार दिया मौत के घाट...मृतक NMDC में करता था काम