सहायक आरक्षकों को प्रमोशन का तोहफा… विधायक निधि अब बढ़कर 4 करोड़… जानिए बजट में CM भूपेश बघेल की बड़ी घोषणाएं

2421

सहायक आरक्षकों को प्रमोशन का तोहफा… विधायक निधि अब बढ़कर 4 करोड़… जानिए बजट में CM भूपेश बघेल की बड़ी घोषणाएं

रायपुर @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के दूरस्थ इलाके में सेवाएं दे रहे सहायक आरक्षकों को बड़ी सौगात मिली है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बस्तर समेत नक्सल इलाके में तैनात हजारों सहायक आरक्षकों को प्रमोशन का तोहफा दिया है।

बुधवार को विधानसभा में बजट पेश करते हुए सीएम बघेल ये घोषणा की। इस घोषणा के बाद सहायक आरक्षकों में खुशी देखी जा रही है। मुख्यमंत्री ने भूपेश बघेल ने ऐलान किया है कि सभी सहायक आरक्षकों को आरक्षक के पद पर पदोन्नत किया जायेगा। इसके लिए अलग कैडर बनाया जायेगा।

बता दें कि छत्तीसगढ़ विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बजट पेश कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने राज्य के अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना को बहाल करने की घोषणा की।

यह भी पढ़ें :  पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में DRG का जवान घायल, पैर में लगी गोली

इस बार मुख्यमंत्री बघेल एक लाख 5 हजार करोड़ का बजट पेश कर रहे हैं। वे अपने कार्यकाल का चौथा बजट पेश कर रहे हैं। सीएम ने प्रदेशवासियों को राहत देते हुए किसी भी नए टैक्स की घोषणा नहीं की है। कहा कि कर वृद्धि का सुझाव देने के लिए वित्त विभाग में नया सेल बनेगा।

बजट में सीएम की बड़ी घोषणाएं…

जिला पंचायत विकास निधि योजना में 22 करोड़ का प्रावधान।

जनपद पंचायत विकास निधि योजना में 66 करोड़ का प्रावधान।

जिला पंचायत जनपद पंचायत एवं ग्राम पंचायत के पदाधिकारियों के मानदेय में की गई वृद्धि।

जिला पंचायत अध्यक्ष का मानदेय 15000 से बढ़ाकर 25000 किया गया।

जिला पंचायत उपाध्यक्ष का मानदेय 10000 से बढ़ाकर 15000 किया गया।

यह भी पढ़ें :  मूर्तियां गायब नहीं, इनकी तस्करी हुई... पूर्व मंत्री गागड़ा बोले, ''लोगों की आस्था पर लगी है गहरी चोट''

जिला पंचायत सदस्य का मानदेय 6000 से बढ़ाकर 10000 प्रति माह किया गया।

चिराग परियोजना के लिए 200 करोड़ का प्रावधान।

गन्ना खरीदी के लिए 112 करोड़ का प्रावधान।

कृषक समग्र योजना के लिए 27 करोड़ का प्रावधान।

फूलों की खेती के लिए अनुदान दिया जाएगा।

खाद्य पदार्थों की जांच के लिए लैब स्थापित होगा।

जगरगुंडा में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र एवं अहिवारा में एनआरसी की स्थापना हेतु 45 पदों का सृजन।

अंबिकापुर एवं कांकेर मेडिकल कॉलेज में उपकरण क्रय हेतु 37 करोड़ का प्रावधान।

रायपुर मेडिकल कॉलेज में कार्डियोवैस्कुलर एवं थोरेसिक सर्जरी विभाग में डेढ़ सौ पदों के सृजन हेतु प्रावधान।

मेडिकल कॉलेज रायपुर में स्नातक छात्र छात्राओं के हॉस्टल निर्माण तथा कर्मचारियों के आवास निर्माण हेतु 10.50 करोड़ का प्रावधान।

खैरागढ़ में 50 बिस्तर सिविल अस्पताल के भवन निर्माण हेतु प्रावधान।

यह भी पढ़ें :  BREAKING: छत्तीसगढ़ में प्रशासनिक फेरबदल, सरकार ने 11 IAS अफसरों के बदले प्रभार...देखिए पूरी लिस्ट

खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने राजीव युवा मितान क्लब के लिए 75 करोड़ का प्रावधान।

ग्रामीण क्षेत्रों में 11664 एवं नगरीय क्षेत्रों में 1605 क्लबों का किया जाएगा गठन।

रायपुर के लाभांडी में निर्माणाधीन टेनिस अकादमी में सेटअप एवं फर्नीचर उपकरण हेतु 1करोड़ 70 लाख का प्रावधान।

मोर जमीन मोर मकान एवं मोर मकान मोर चिन्हारी योजनाओं के लिए 450 करोड़ का प्रावधान।

नगरीय निकायों के संपत्ति के ऑफसेट मूल्य को कलेक्टर गाइडलाइन में निर्धारित दर से 30% कम करने की घोषणा।

मिशन अमृत 2.0 के तहत समस्त घरों में नल कनेक्शन प्रदान करने हेतु 200 करोड़ का प्रावधान।

मुख्यमंत्री ने विधायक निधि की राशि दो करोड़ से बढ़ाकर चार करोड़ करने की घोषणा की।

हिंदी माध्यम के 32 स्वामी आत्मानंद स्कूल प्रारंभ करने की घोषणा