कलेक्टर काॅन्फ्रेंस में CM भूपेश बघेल की अफसरों को नसीहत, बोले- सादे कागज पर लिखे आवेदन पर भी करें प्रभावी कार्रवाई

46
CM Bhupesh Baghel gave instructions to officers at Collector Conference

कलेक्टर काॅन्फ्रेंस में CM भूपेश बघेल अफसरों से बोले, सादे कागज पर लिखे आवेदन पर भी करें प्रभावी कार्रवाई

रायपुर @ खबर बस्तर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को अपने निवास कार्यालय से वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के जरिए कलेक्टर काॅन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ कोरोना से लड़ाई में जरूर जीतेगा। हमें थकना नहीं है, निराश नहीं होना है, बल्कि और तत्परता से इस लड़ाई को लड़ना है।

CM Bhupesh Baghel gave instructions to officers at Collector Conference

सीएम ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान सभी जिलों का कार्य प्रशंसनीय रहा। रविवार, शनिवार सहित सभी त्यौहारों के दिन भी अधिकारियों और कर्मचारियों ने काम किया है, इसके लिए सभी को धन्यवाद। अभी आंकड़े थोड़े बढ़े है, लेकिन मुझे विश्वास है, जैसे आपने अभी तक नियंत्रण किया है, आगे भी करेंगे।

Read More: 

 

काॅन्फ्रेंस में सीएम बघेल ने आम जनता को शासन के विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों का समय सीमा में लाभ दिलाने के लिए लागू लोक सेवा गारंटी अधिनियम को और अधिक प्रभावी बनाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि सादे कागज पर मिलने वाले आवेदनों को भी स्वीकार कर उस पर समय सीमा में कार्रवाई सुनिश्चत करें।

यह भी पढ़ें :  IAS ट्रांसफर: 3 जिलों के बदले गए कलेक्टर, 9 IAS समेत 10 अफसरों का तबादला... देखिए पूरी ट्रांसफर लिस्ट

इन जिलों को मिली तारीफ

मुख्यमंत्री ने कहा कि दुर्ग, रायपुर, बिलासपुर आईजी ने पैदल चलने वालों के लिए अच्छा काम किया। प्रवासी मजदूरों के लिए आवश्यक व्यवस्था के साथ चप्पलों की भी व्यवस्था की गई। इसके साथ ही विभिन्न राज्यों के लिए नामांकित नोडल अधिकारियों ने प्रशंसनीय कार्य किया। रायपुर जिला प्रशासन ने भी अच्छा काम किया है। क्वारेंटाईन सेंटर में भी अच्छी व्यवस्था की गई है।

Read More: 

 

सीएम ने कहा कि कोरोना संकट के दौर में भी औद्योगिक उत्पादन और रोजगार देने में छत्तीसगढ़ अग्रणी रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों के साथ नगरीय क्षेत्रों में भी रोजगार उपलब्ध कराया गया है। कुछ औद्योगिक इकाईयों द्वारा बिना सूचना के श्रमिकों को लाया गया यह चिंतनीय है। मनरेगा अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में अच्छा काम हुआ है। समय पर मजदूरी भुगतान भी हुआ है।

यह भी पढ़ें :  दंतेवाड़ा नगर पालिका के 3 वार्डों में सिमटी कांग्रेस, भाजपा के 8 प्रत्याशी जीते, 4 वार्डों में विजयी हुए निर्दलीय उम्मीदवार

Read More: 

 

मुख्यमंत्री ने कहा है कि आम जनता को किसी भी तरह की सेवा मिलने में परेशानी न उठानी पड़े इसका विशेष रूप से ध्यान रखा जाए। समय सीमा में सेवा उपलब्ध कराने में चूक करने वाले अधिकारियों पर नियमानुसार अर्थदंड की कार्रवाई के भी निर्देश दिए हैं।

Read More: 

 

यह भी पढ़ें :  बेहतर मतदान के लिए सुकमा के उप जिला निर्वाचन अधिकारी सम्मानित

मुख्यमंत्री ने कांफ्रेंस में सभी कलेक्टरों को सीमांकन के कार्य को बरसात शुरू होने तक जारी रखने के निर्देश दिए। शहरी क्षेत्रों में सीमांकन के कार्य बरसात के वक्त में भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने दस्तावेजों का जिले के किसी भी तहसील में पंजीयन कराने की प्रक्रिया को शुरू करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

अधिकारियों का बढ़ाया हौसला

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश में कोविड 19 महामारी के नियंत्रण तथा लाकडाउन के दौरान प्रवासी श्रमिकों एवं जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए राज्य में अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए राज्य में काफी प्रभावी ढंग से अधिकारी कर्मचारियों ने काम किया इसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए कम है।

 

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…

ख़बर बस्तर के व्हॉट्सएप्प ग्रुप में जुड़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए….