कोबरा कमांडो को रिहा कराने वाले मध्यस्थों का CM भूपेश बघेल ने किया सम्मान… जवान को घर तक पहुंचाने जम्मू जाएगी टीम

49

कोबरा कमांडो को रिहा कराने वाले मध्यस्थों का CM भूपेश बघेल ने किया सम्मान… जवान को घर तक पहुंचाने जम्मू जाएगी टीम

रायपुर @ खबर बस्तर। मुठभेड़ के बाद नक्सलियों द्वारा बंधक बनाए गए कोबरा कमांडो राकेश्वर सिंह मनहास को छुड़ाने वाली मध्यस्थों की टीम से सोमवार को सीएम भूपेश बघेल ने मुलाकात की। जवान की रिहाई में अहम भूमिका निभाने वाले मध्यस्थों व पत्रकारों का सीएम निवास में मुख्यमंत्री ने सम्मान भी किया।

इस दौरान मध्यस्थों की टीम से वरिष्ठ सदस्य पद्मश्री धर्मपाल सैनी के अलावा जय रुद्र करे, तेलम बोरैया, सुखमती हप्का, पत्रकार गणेश मिश्रा, मुकेश चंद्राकर का सीएम बघेल के अलावा गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू और उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने शॉल व श्रीफल भेंटकर सम्मान किया। इस दौरान अपह्रत जवान राकेश्वर सिंह मनहास भी इनके साथ थे।

यह भी पढ़ें :  भाजपा के आरोपों पर वरिष्ठ कांग्रेसी ने लगा दी मुहर, महेश गागड़ा बोले, 'भ्रष्टाचार की इंतेहा कर दी MLA ने'

सीएम बघेल ने कहा कि कोबरा बटालियन के जवान को रिहा कराने के लिए मध्यस्थ टीम ने संकट के समय में बड़ी सूझबूझ का परिचय दिया और बड़े सहज रूप से जवान को सकुशल रिहा कराने में सफल हुए। इस कार्य की जितनी भी सराहना की जाए कम है।

इस पूरे घटनाक्रम पर पूरे देश की नजर थी। जवान के रिहा होने पर छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश ने राहत की सांस ली। टीम के सदस्यों ने एक जिम्मेदार नागरिक का दायित्व निभाया और साहस के साथ अपनी भूमिका निभाई।

यह भी पढ़ें :  बीजापुर में कोरोना विस्फोट: एक साथ 13 पॉजिटिव केस आने से मचा हड़कंप, संक्रमितों में 8 CRPF जवानों के अलावा 5 शहरी भी शामिल

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि जवान राकेश्वर सिंह मनहास की सकुशल रिहाई को लेकर उन्होंने जवान की माता जी को वचन दिया था। मुझे संतोष है कि सभी के सहयोग से यह वचन पूरा हुआ।

सीएम ने कहा कि मध्यस्थ टीम के सदस्यों, स्थानीय सामाजिक नेताओं, सामाजिक संगठनों, पत्रकारों, स्थानीय अधिकारियों की सूझबूझ और प्रयासों से जवान मन्हास की सकुशल वापसी हुई है। जवान को उनके घर तक सकुशल छोड़ने के लिए मध्यस्थ टीम जम्मू जाएगी। मुख्यमंत्री ने मध्यस्थ टीम के सदस्यों द्वारा समाज में शांति स्थापना के लिए किए जा रहे कार्यो की प्रशंसा की।

यह भी पढ़ें :  बस्तर की इस 'नन्ही परी' का आल इंडिया मिनी मॉडल प्रतियोगिता में हुआ चयन, विनर बनाने कीजिए वोटिंग

इस दौरान स्पेशल डीजी (नक्सल ऑपरेशन) अशोक जुनेजा, डीआईजी नक्सल ऑपरेशन ओपी पाल, सीआरपीएफ के आईजी प्रकाश डी. भी उपस्थित थे। वहीं बीजापुर से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये पत्रकारगण पी. रंजनदास, यूकेश चंद्राकर, चेतन कापेवार और के. शंकर और जगदलपुर से कमिश्नर बस्तर जीआर चुरेन्द्र, आईजी पी सुंदरराज, डीआईजी कोबरा बटालियन अखिलेश सिंह और पत्रकार राजा राठौर जुड़े।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…

खबर बस्तर के WhatsApp ग्रुप में जुड़ने के लिए इस Link को क्लिक कीजिए…