मोदी सरकार कर रही छत्तीसगढ़ पर आर्थिक चोट… किसानों से किया धोखा, गरीबों का निवाला छीनने की तैयारी- मण्डावी

101

बीजापुर @ खबर बस्तर। बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं स्थानीय विधायक विक्रम शाह मण्डावी ने मोदी सरकार पर किसानों से छलावा और गरीबों के पेट पर चोट करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि केन्द्र छग की जनता पर आर्थिक चोट करने पर आमादा है, लेकिन कांग्रेस की भूपेश सरकार नहीं डिगेगी।

विधायक विक्रम मण्डावी यहां जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से केन्द्र सरकार की नीतियों के खिलाफ आयोजित एक दिनी धरने को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि छग में केन्द्र ने केरोसिन में 38 फीसदी की कटौती की है, जबकि छग खासकर बस्तर और सरगुजा के गांवों में लोगों को बिजली नहीं होने से केरोसीन की ज्यादा जरूरत होती है।

यह भी पढ़ें :  शबरी नदी में बाढ़, सुकमा के 2 दर्जन गांवों का मुख्यालय से संपर्क टूटा... NH 30 हुआ जाम, ओड़िशा मार्ग भी बंद

इसी तरह धान के सर्मथन मूल्य में केन्द्र अपना हिस्सा नहीं दे रही है और गरीबों को राशन दुकानों से दिए जाने वाले चावल में भी कटौती की है। कांग्रेस ने छग में सत्ता में आते ही अपने वादे पूरे किए जबकि तत्कालीन रमन सरकार ने 15 साल में ऐसा कुछ काम नहीं किया। रमन सरकार ने वादाखिलाफी के जरिए 15 साल काट दिए।

पीसीसी सचिव अजय सिंह ने कहा कि छग से केन्द्र का सौतेला व्यवहार कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मोदी सरकार छग सरकार को आर्थिक तौर पर अस्थिर करने की कोशिश में है। मंदिर-मस्जिद मुद्दे को लेकर सत्ता में आई भाजपा की केन्द्र सरकार से ना तो भूपेश सरकार डरेगी और ना ही छग की जनता।

बीजापुर जिला प्रभारी सत्तार अली ने कहा कि केन्द्र पेट्रोलियम पदार्थों में जमकर इजाफा कर रही है। इससेे महंगाई बढ़ रही है। कांग्रेस जिलाध्यक्ष लालू राठौर ने कहा कि 2500 समर्थन मूल्य से किसान का एक-एक दाना धान भूपेश सरकार ने अपने वादे के मुताबिक खरीदा और अब छग के किसानों को मोदी सरकार धोखा दे रही है।

राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन:

सभा को कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष जगबंधु मांझी, पूर्व जिपं उपाध्यक्ष मिच्चा मुतैया, एवं जनपद सदस्य रत्ना सोढ़ी ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर रेंगा नागेश, सुकलू पूनेम, ज्योति कुमार, कुशाल खान, एजाज सिद्दिकी, वीरेन्द्र ठाकुर समेत बड़ी संख्या में कांग्रेसी मौजूद थे। कांग्रेसियों ने लाईवलीहुड काॅलेज से कलेक्टोरेट तक रैली निकाली और राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन एसडीएम एआर राना को सौंपा।

यह भी पढ़ें :  घर में सो रहा डेढ़ महीने का मासूम गायब ! एक हफ्ते बाद भी बच्चे का सुराग नहीं... चोरी हुआ या जानवर उठा ले गया, पुलिस कर रही जांच !

Khabar-Bastar-Broadcast