विधायक मण्डावी पर लगाया था भ्रष्टाचार का आरोप, PCC की नोटिस पर कांग्रेस नेता अजय सिंह ने पेश की सफाई

1390
- अजय सिंह

विधायक मण्डावी पर लगाया था भ्रष्टाचार का आरोप, PCC की नोटिस पर कांग्रेस नेता अजय सिंह ने पेश की सफाई

पंकज दाऊद @ बीजापुर। छग युवा आयोग के सदस्य अजय सिंह ने उनकी ओर से विधायक विक्रम मण्डावी पर लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों पर पीसीसी से मिले नोटिस का जबाव रविवार को दे दिया है। जवाब में क्या लिखा गया है, इसका खुलासा उन्होंने नहीं किया है।

बता दें कि छग युवा आयोग के सदस्य अजय सिंह ने हाल ही में क्षेत्रीय विधायक विक्रम मण्डावी पर भ्रष्टाचार का आरोप खुलेआम लगाते प्रेस वार्ता की थी। इसमें उन्होंने भ्रष्टाचार के अलावा जिले में पार्टी की स्थिति को लेकर भी टिप्पणी की थी।

यह भी पढ़ें :  वन विभाग में बड़ा फेरबदल: 35 IFS अधिकारियों का ट्रांसफर, कई DFO भी बदले... देखिये पूरी लिस्ट
– पीसीसी से मिली नोटिस।

 

संज्ञान में ये बात आने के बाद पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम के निर्देश पर प्रभारी महामंत्री संगठन चंद्रशेखर शुक्ला ने 27 अप्रैल को अजय सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी करते कहा कि निर्वाचित जनप्रतिनिधि के खिलाफ सार्वजनिक तौर पर अनर्गल बयानबाजी से मीडिया व आम जनता में पार्टी की छवि धूमिल हो रही हैै।

ये आचरण पार्टी अनुशासनहीनता की परिधि में आता है। सात दिनों में जवाब नहीं दिए जाने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की बात भी शो काॅज नोटिस में कही गई थी।

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में COVID-19 से 5वीं मौत, दुर्ग की युवती ने AIIMS में तोड़ा दम
– अजय सिंह

संगठन ने छग प्रभारी पीएल पुनिया, सीएम भूपेश बघेल, प्रभारी अभा कांग्रेस कमेटी चंदन यादव, अभा कांग्रेस कमेटी छग प्रभारी सप्तगिरी उल्का व अध्यक्ष जिला कांग्रेस कमेटी को इसकी प्रति भेजी थी।

नोटिस के जवाब में रविवार को अजय सिंह ने चार पन्ने की सफाई पेश की ओर इसे कोण्डागांव में पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम को सौंपा।

अजय सिंह ने पत्रकारों को सिर्फ इतना ही बताया कि उन्होंने नोटिस का जवाब दे दिया है। सफाई में उन्होंने क्या कहा है। इसका खुलासा उन्होंने ये कहते नहीं किया कि ये अनुशासनहीनता की श्रेणी में ओता है। इसे सार्वजनिक नहीं किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें :  छग में अघोषित आपातकाल, भाजपा करेगी जेल भरो आंदोलन... भूपेश सरकार जनता की आवाज को दबाने लगी