कोविड हॉस्पिटल के ICU में लगी आग, 4 मरीजों की मौत, 30 से अधिक प्रभावित

54

कोविड हॉस्पिटल के ICU में लगी आग, 4 मरीजों की मौत, 30 से अधिक प्रभावित

रायपुर @ खबर बस्तर। कोरोना की मार झेल रहे छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एक भीषण हादसा हो गया है। शनिवार को रायपुर के पचपेढ़ी नाका स्थित एक निजी अस्पताल में आग लग गई। इस घटना में 4 मरीजों की मौत की खबर आ रही है। वहीं इस घटना में करीब 30 लोग प्रभावित बताए जा रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक, रायपुर के पचपेढ़ी नाका स्थित राजधानी अस्पताल के ऊपरी फ्लोर में आईसीयू वार्ड में अचानक आग लगने से अफरा-तफरी मच गई। घटना के वक्त अस्पताल के आईसीयू में लगभग 30 से ज्यादा मरीज भर्ती थे। इस हादसे में 4 मरीजों की मौत होने की पुष्टि हो गई है। हादसे की वजह शार्ट सर्किट बताई जा रही है।

यह भी पढ़ें :  बीजापुर में नक्सलियों का खूनी खेल, पुलिस मुखबिरी के शक में 4 निर्दोष ग्रामीणों की हत्या... पहले बनाया था बंधक, फिर उतार दिया मौत के घाट

Read More:

 

बताया जा रहा है कि एक मरीज की आग में झुलसने से और 3 की दम घुटने की वजह से मौत हो गई है। आगजनी की सूचना पर फायर ब्रिगेड और पुलिस की टीम तुरंत मौके पर पहुंची और रेस्क्यू आपरेशन शुरू किया गया। मौके पर देर शाम कलेक्टर भारतीदासन और एसएसपी अजय यादव भी पहुंचे और हालात का जायजा लिया।

अस्पताल में लगी आग इतनी भीषण थी कि अफरा-तफरी में मरीजों को स्ट्रेचर में डालकर अस्पताल के बाहर लाया गया। लेकिन अधिकतर मरीज वेंटिलेटर और ऑक्सीजन बेड पर थे ऐसे में शिफ्टिंग के दौरान कई मरीजों की हालत बिगड़ने लगी। इनमें से कुछ की जान पर खतरा अभी भी बना हुआ है।

यह भी पढ़ें :  गंगालूर और पामेड़ के बीच खिताबी भिडंत, तीसरे स्थान के लिए कोत्तूर और बीएसए के बीच मुकाबला

अस्पताल में धुआं ही धुआं

आग की वजह से अस्पताल के सभी कमरों में धुआं भरने लगा था। ऐसे में पहले से ही सांस की तकलीफ झेल रहे मरीजों का दम घुटने लगा। घबराकर परिजनों ने हॉस्पिटल में लगे कांच को तोड़कर धुआं बाहर निकलने की जगह बनाई। इसी बीच फायर फाइटर्स भी मौके पर पहुंच गए और आग पर काबू पाने की जद्दोजहद शुरू हुई।

Read More:

आगजनी की घटना के बाद अस्पताल के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद है। राजधानी अस्पताल को कोविड केयर हॉस्पिटल भी बनाया गया है। अस्पताल में भर्ती ज्यादातर मरीज कोविड पॉजिटिव थे। यह हादसा ऐसे समय में हुआ है, जब रायपुर में लॉकडाउन है।

यह भी पढ़ें :  दंतेश्वरी मंदिर में मिला काले सिर वाला दुर्लभ सांप... खासियत जानकर दंग रह जाएंगे आप ǃ

कार में दिया ऑक्सीजन

आग लगने के बाद मरीजों को बाहर निकालने कवायद शुरू हुई। एक मरीज जिसे सांस लेने में दिक्कत हो रही थी, उसे बाहर निकाला गया और कार में बैठाया कर गया। फिर अस्पताल के लोग और परिजनों ने मिलकर ऑक्सीजन सिलेंडर बाहर निकाला और कार में ही उसे ऑक्सीजन दी गई। उसकी हालत भी नाजुक बनी हुई है।