CRPF जवानों के परिजन आए और चुपचाप घर में रहने लगे… मोहल्ले वालों की शिकायत पर किया गया क्वारेंटाइन

68
Family of CRPF personnel quarantined

CRPF जवानों के परिजन आए और चुपचाप घर में रहने लगे… मोहल्ले वालों की शिकायत पर किया गया क्वारेंटाइन

पंकज दाऊद @ बीजापुर। सीआरपीएफ की 168 बटालियन के दो जवानों के परिवार तमिलनाडु और सीमांध्र से बीती रात जिला मुख्यालय आए और किसी को बिना बताए वे डारापारा में किराए के मकान में घुस गए। मोहल्ले वालों की शिकायत पर उन्हें क्वारेंटाइन किया गया।

Family of CRPF personnel quarantined

सूत्रों के मुताबिक एक जवान बीती रात को ही अपनी पत्नी के साथ तमिलनाडु के तेनगादी से लौटा। वह एक माह पहले अवकाश पर गया था। इसी तरह उसके बगल में ही किराए पर रहने वाले सीआरपीएफ के एक अन्य जवान की मां और पत्नी भी कल सीमांध्र के चित्तूर जिले से ही यहां आए।

यह भी पढ़ें :  IAS दीपक सोनी ने दंतेवाड़ा कलेक्टर का कार्यभार संभाला, कलेक्टोरेट के विभिन्न शाखाओं का किया अवलोकन

Read More: 

 

बताया गया है कि इस जवान की ड्यूटी अभी मुख्यालय में ही है। छुट्टी से लौटने के बाद इस बात की खबर दोनों जवानों ने मेडिकल टीम को नहीं दी। सुबह मोहल्ले के लोगों को शक हुआ तो ये बात पार्षद लक्ष्मण कड़ती को बताई।

यह भी पढ़ें :  नक्सलियों ने 5 गाड़ियों को फूंक डाला, सड़क निर्माण कार्य में लगे थे वाहन... बैनर लगाकर ठेकेदारों को दी धमकी

Read More: 

 

पार्षद लक्ष्मण कड़ती ने इस बात की जानकारी पालिका अध्यक्ष बेनहूर रावतिया को दी। इसके बाद बेनहूर रावतिया एवं लक्ष्मण कड़ती सुबह पहुंचे और दोनों ही परिवार के लोगों से पूछताछ की। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग को इसकी सूचना दी गई।

होम क्वारेंटाइन का आग्रह ठुकराया

मेडिकल टीम जब पहुंची, तो तमिलनाडु से लौटे एक जवान ने उनसे होम क्वारेंटाइन करने का आग्रह किया लेकिन टीम ने इस बात से इंकार किया और क्वारेंटाइन सेंटर आने कहा। उन्हें सांस्कृतिक भवन स्थित क्वारेंटाइन सेंटर में 14 दिनों के लिए रखा जाएगा। ज्ञात हो कि अभी कोविड-19 हाॅस्पिटल में 32 मरीज भर्ती हैं। 30 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं।

यह भी पढ़ें :  कोविड हाॅस्पिटल के रूम में 28 घंटे से पड़ी लाश, बुजुर्ग की मौत के बाद नहीं पहुंचे परिजन

Read More: 

 

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…