‘मांई दंतेश्वरी’ के नाम से पहचाना जाएगा जगदलपुर का एयरपोर्ट, बस्तर के जनप्रतिनिधियों की मांग पर CM ने दी सहमति

106

‘मांई दंतेश्वरी’ के नाम से पहचाना जाएगा जगदलपुर का एयरपोर्ट, बस्तर के जनप्रतिनिधियों की मांग पर CM ने दी सहमति

रायपुर @ खबर बस्तर। संभाग मुख्यालय जगदलपुर के हवाई अड्डे का नामकरण बस्तर की आराध्य देवी मांई दंतेश्वरी के नाम पर होगा। बस्तर के जनप्रतिनिधियों की मांग पर सीएम भूपेश बघेल ने इस पर सहमति दे दी है।

बता दें कि शनिवार को मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में उद्योग मंत्री कवासी लखमा के नेतृत्व में बस्तर संभाग के जनप्रतिनिधियों ने सीएम भूपेश बघेल से मुलाकात की।

इस दौरान उद्योग मंत्री कवासी लखमा, बस्तर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, बविप्रा उपाध्यक्ष व बीजापुर विधायक विक्रम मंडावी व चित्रकोट विधायक राजमन बेंजाम समेत अन्य जनप्रतिनिधियों ने नगरनार में निर्माणाधीन स्टील प्लांट का निजीकरण किए जाने का विरोध करते हुए इस संबंध में मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा।

यह भी पढ़ें :  प्रदेश में अब सप्ताह में 6 दिन खुलेंगी दुकानें, भूपेश सरकार का बड़ा फैसला... रेड जोन और कंटेंनमेंट एरिया में नहीं मिलेगी कोई छूट

स्टील प्लांट के निजीकरण का विरोध

मंत्री लखमा ने बताया कि जोगी सरकार के कार्यकाल में एनएमडीसी को नगरनार स्टील प्लांट के लिए जमीन दी गई थी। अब जबकि उस संयंत्र से उत्पादन शुरू होने वाला है केंद्र सरकार उसे निजी हाथों में सौंप रही है। यह बस्तर की जनता के साथ धोखा है, क्योंकि उन्होंने अपनी जमीन सरकारी कंपनी के लिए दिया था।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मामले में राज्य सरकार बस्तरवासियों के साथ है। बस्तर के लोगों के हितों की अनदेखी नहीं होने दी जाएगी।

यह भी पढ़ें :  'बचपन का प्यार' सहदेव सड़क हादसे में जख्मी, सिर पर लगी गंभीर चोट... अस्पताल पहुंचे कलेक्टर-SP, मंत्री कवासी लखमा ने किया फोन, जगदलपुर रेफर

विधायक राजमन बेंजाम एवं विक्रम मंडावी ने बस्तर अंचल में भारी बारिश व बाढ़ की वजह से हुए नुकसान की जानकारी देते हुए प्रभावित परिवारों को क्षतिग्रस्त मकान के बदले प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत नया आवास स्वीकृत किए जाने का आग्रह किया।

Read More:

 

यह भी पढ़ें :  5 एकड़ में फसल ले 10 एकड़ का धान नहीं बेच सकेंगे किसान ! फर्जी धान खरीदी पर नकेल कसने नया नियम लागू

जनप्रतिनिधियों ने बस्तर अंचल के निर्दोष लोगों के खिलाफ दर्ज प्रकरणों का त्वरित निराकरण किए जाने की भी मांग की। इस अवसर पर मिथलेश स्वर्णकार, अवधेश सिंह गौतम, सत्तार अली, आलोक दुबे, संजू जैन सहित अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…