रिटायरमेंट के बाद फिर से सियासी पारी, लक्ष्मीनारायण लौटे CPI में

387

रिटायरमेंट के बाद फिर से सियासी पारी, लक्ष्मीनारायण लौटे CPI में

पंकज दाउद @ बीजापुर। किसी जमाने में भारतीय कम्यूनिस्ट पार्टी के परियोजना सचिव रह चुके तोयनार के पी लक्ष्मीनारायण सरकारी सेवा से निवृत्त होने के बाद फिर राजनीति में आ गए हैं। यहां पत्रकार भवन में एक समारोह में उन्होंने फिर से पार्टी की सदस्यता ली।

जिला पंचायत जगदलपुर से एपीओ के पद से 31 दिसंबर को लक्ष्मीनारायण रिटायर हुए। किसी जमाने में वे सीपीआई में सक्रिय थे लेकिन जॉब लग जाने पर उन्होंने पार्टी छोड़ दी। बुधवार को उन्होंने पत्रकार भवन में पार्टी के जिला सचिव कमलेष झाड़ी, सह सचिव कोवाराम हेमला, नौजवान सभा के जिलाध्यक्ष संजय झाड़ी, सदस्य जेम्स कुड़ियम, सुरेन्द्र जुमड़े आदि नेताओं की मौजूदगी में पार्टी ज्वाइन की।

यह भी पढ़ें :  सुकमा मुठभेड़ के बाद लापता 13 जवानों का सुराग नहीं, सर्च आपरेशन में निकली पार्टियां...घायलों का रायपुर में चल रहा इलाज

इस मौके पर सचिव कमलेश झाड़ी ने कहा कि लक्ष्मीनारायण के पार्टी में लौट आने से राजनीतिक सक्रियता बढ़ेगी। गरीब और आदिवासियों के हक में लड़ी जा रही लड़ाई में तेजी आएगी।

सरकार संजीदा नहीं

कमलेश झाड़ी ने कहा कि भूपेश सरकार आदिवासियों के प्रति संजीदा नहीं है। बुरजी और बेचापाल में पांचवी अनुसूची और पेसा कानून लागू करने की मांग को ले आंदोलनरत आदिवासियों की सुनवाई नहीं हो रही है। जेल में बंद निर्दोष आदिवासियों की रिहाई को ले कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। इधर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और संविदा कर्मी आंदोलनरत हैं। इनकी ओर भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में फिर प्रशासनिक सर्जरी, 14 डिप्टी कलेक्टरों का जारी हुआ ट्रांसफर लिस्ट...यहां देखिए पूरी सूची