Corona Virus अलर्ट: महाराष्ट्र और तेलंगाना बाॅर्डर सील, लोगों की ट्रेवल हिस्ट्री पर स्वास्थ्य विभाग की पैनी नजर!

52
Maharashtra and Telangana border seal due to Corona Virus

Corona Virus अलर्ट: महाराष्ट्र और तेलंगाना बाॅर्डर सील, लोगों की ट्रेवल हिस्ट्री पर स्वास्थ्य विभाग की पैनी नजर!

पंकज दाऊद @ बीजापुर। कोरोना वायरस के खतरे को भांपते जिला प्रशासन ने महाराष्ट्र एवं तेलंगाना बाॅर्डर को चार दिन पहले सील कर दिया है। जिले में बाहर से आए हुए लोगों की पूरी ट्रेवल हिस्ट्री पर मेडिकल टीम पैनी नजर बनाए हुए है। इधर, कलेक्टर केडी कुंजाम रोजाना ऐहतियात की गतिविधियों पर नजर रखे हुए हैं।

सीएमएचओ डाॅ बीआर पुजारी ने बताया कि चार दिन पहले ही तिमेड़ और तारलागुड़ा में बाॅर्डर को सील कर दिया गया। यहां भी मेडिकल टीम के साथ पुलिस महकमे ने कैम्प कर दिया है। किसी को आने नहीं दिया जा रहा है लेकिन पैदल भी कुछ लोग आ रहे हैं।

थर्मल स्केनिंग के बाद जिले में प्रवेश

बताया गया है कि ये लोग महाराष्ट्र और तेलंगाना में फंसे हुए थे। मजबूरी को देखते कुछ लोगों को छग में घुसने की अनुमति दी जा रही है लेकिन इसके पहले उनकी उचित थर्मल स्केनिंग की जा रही है और उनकी ट्रेवल हिस्ट्री जानकारी भी हासिल की जा रही है। भैरमगढ़ में भी मेडिकल टीम एनएच पर तैनात है।

यह भी पढ़ें :  लाॅक डाउन: सरकारी मिड डे मील अब बच्चों के घरों तक पहुंचने लगा, दुर्गम इलाकों में भी जा रहे शिक्षक

Read More: 

जगदलपुर और अन्य स्थानों से आने वाले लोगों की थर्मल स्केनिंग कर उनकी पूरी जानकारी जुटाई जा रही है। तेलंगाना से सटे पामेड़ गांव में मेडिकल टीम बाॅर्डर पर नजर बनाए हुए है। जिला मुख्यालय में भी एक मेडिकल टीम तैनात है। इसके अलावा गांवों के लिए कुछ मोबाइल मेडिकल टीम बनाई गई है।

Maharashtra and Telangana border seal due to Corona Virus

गांव वाले हो रहे जागरूक

सीएमएचओ डाॅ पुजारी ने बताया कि गुरूवार को ये टीम धनोरा एव तोयनार गई थी। असल में कोरोना को लेकर गांवों में तेजी से जागरूकता आई है और सरपंच सचिव ही नहीं, बल्कि खुद गांव के लोग बाहर से आए लोगों के बारे में स्वास्थ्य विभाग को खबर दे रहे हैं।

Read More: 

सीएमएचओ के मुताबिक विभाग ऐसे लोगों के पास खुद जाकर उनका परीक्षण कर रहा है और उन्हें आइसोलेटेड रहने की समझाईश दे रहा है। विभाग का मानना है कि लोगों को पैनिक होने की दरकार नहीं है लेकिन सावधानी पूरी बरतनी चाहिए।

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में अंतर्राज्यीय व अंतर जिला आवागमन के लिए ई-पास रहेगा जरूरी, सरकार ने LockDown 5.0 को लेकर जारी किया दिशा निर्देश

गोंगला आए 40 लोग

सीएमएचओ डाॅ पुजारी के मुताबिक बुधवार को यहां से करीब 30 किमी दूर बसे गांव गोंगला में 40 लोगों के पहुंचने की खबर मिली। ये लोग मिर्ची के खेत में मजदूरी करने तेलंगाना गए थे। गुरूवार को एक टीम गोंगला भेजी जा रही है। इन लोगों को भी स्केनिंग के बाद आइसोलेश में रहने की सलाह दी जाएगी।

सोडियम हाइपोक्लोराइड का स्प्रे

सब्जी बाजार को बुधवार को शेड में लगाने का निर्णय लिया गया क्योंकि यह स्थान खुला है और इससे एक ही स्थान पर भीड़भाड़ की आशंका कम हो जाएगी। कलेक्टर केडी कुंजाम ने गुरूवार को बाजार का निरीक्षण किया। इस समय पालिका अध्यक्ष बेनहूर रावतिया, सीएमओ पवन मेरिया, तहसीलदार टीपी साहू, टीआई चंद्रशेखर बारिक एवं पार्षद प्रवीण डोंगरे मौजूद थे।

यह भी पढ़ें :  कैम्प हटाने की मांग: पत्थरबाजी से हिंसा भड़की और गोलीबारी पर खत्म... तीन की जान गई और 18 घायल

Maharashtra and Telangana border seal due to Corona Virus

सीएमओ पवन कुमार मेरिया ने बताया कि कोरोना के खतरे को देखते नगर के कुछ स्थानों पर सोडियम हाइपोक्लोराइड का छिड़काव किया जा रहा है। किराना दुकानों और मेडिकल स्टोर के अलावा सब्जी विक्रेताओं से ग्राहकों के बीच कम से कम एक मीटर दूरी बनाए रखने की सलाह दी गई है।

Read More: 

इसके लिए बुधवार को किराना दुकान के सामने डेमो भी किया गया। सभी दुकानदारों से पानी एवं सेनेटाइजर रखने कहा गया है। बताया गया है कि लॉक डाउन के बावजूद नगर में पेयजल आपूर्ति और सफाई के काम निर्बाध रूप से जारी रहेंगे।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…

ख़बर बस्तर के WhatsApp ग्रुप में जुड़ने के लिए इस Link को क्लिक कीजिए….