राजनीतिक गुरू अजीत जोगी के निधन पर मंत्री कवासी लखमा ने जताया गहरा दुख… बोले- अंतिम साँस तक नहीं भूल पाएंगी यादें

94
Minister Kawasi Lakhma expressed deep grief over the death of Ajit Jogi

राजनीतिक गुरू अजीत जोगी के निधन पर मंत्री कवासी लखमा ने जताया गहरा दुख, बोले- अंतिम साँस तक नहीं भूल पाएंगी यादें

सुकमा/दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन पर प्रदेश के आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने गहरा दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने अपने राजनीतिक गुरू रहे जोगी को श्रद्धांजलि देते कहा कि उनका निधन मेरी पारिवारिक व राजनैतिक क्षति है, जो इस जीवन मे पूरी नही हो सकती।

Minister Kawasi Lakhma expressed deep grief over the death of Ajit Jogi

मंत्री लखमा ने स्वर्गीय जोगी की तुलना पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी व आंध्र के पूर्व मुख्यमंत्री वाय शेखर रेड्डी से करते हुए कहा कि गरीबों की चिंता करने में इनकी भूमिका अविस्मरणीय रहेगी।

यह भी पढ़ें :  कुएं में मिला तेंदुए का शव... पहले भी हो चुकी हैं घटनाएं, वन अमला बेखबर

Read More:

 

लखमा ने कहा कि जोगी जी के मुख्यमंत्री काल में वे उनके संपर्क में आए। यह समय उनका राजनीतिक जीवन की सीढ़ियां चढ़ने की ओर अग्रसर हो रहा था। ऐसे शुरूआती दौर में जोगी जी ने मुझ पर भरोसा जता कर मुझे छोटे भाई की तरह आगे लेकर गए।

Read More:

उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि जोगी जी का बस्तर से गहरा लगाव रहा। उन्होंने जब भी उनसे सुकमा के विकास के लिए जो भी मांगा उन्होंने इंकार नही किया और शबरी पर पुल, सुकमा ग्राम पंचायत में फिल्टर प्लांट जैसे करोड़ों की सौगात आज भी विकास के सौपनों की याद दिलाती है।

यह भी पढ़ें :  शिक्षाकर्मियों को राज्योत्सव पर बड़ी सौगात: 8 हजार से ज्यादा व्याख्याताओं का संविलयन आदेश जारी... 16 हजार शिक्षाकर्मियों का होगा संविलयन

Read More:

 

सियासी सफर में जोगी की अहम भूमिका

लखमा ने कहा कि नागारास के एक गरीब आदिवासी को यहाँ तक पहुंचाने में जोगी जी की अहम भूमिका थी। उन्होंने हर कदम पर मेरा हौसला बढ़ाया और मार्गदर्शन किया। लखमा ने कहा कि अंतिम साँस रहते तक वे अजीत जोगी को नही भूल पाएंगे। इस दुःख की घड़ी में ईश्वर से प्रार्थना करता हूं की उनकी आत्मा को शांति प्रदाय करे।

यह भी पढ़ें :  चुनाव ड्यूटी में तैनात SSB जवान ने खुद को मारी गोली, इलाज के दौरान हुई मौत

 

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…

ख़बर बस्तर के व्हॉट्सएप्प ग्रुप में जुड़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए….