मंत्री लखमा के निज सहायक बने कोरोना मददगार‚ महामारी नियंत्रण हेतु की इस पहल की हो रही तारीफ ǃ

22

मंत्री लखमा के निज सहायक बने कोरोना मददगार‚ महामारी के नियंत्रण हेतु की ये पहल ǃ

के. शंकर @ सुकमा। इस समय पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही है। मानव समुदाय को इस संकटकाल से बचाने कई व्यक्ति‚ समूह और सामाजिक संस्थाएं सामने आ रहे हैं।

इसी कड़ी में प्रदेश के उद्योग व आबकारी मंत्री कवासी लखमा की प्रेरणा से उनकी निजि स्थापना मे निज सहायक के पद पर पदस्थ सुकमा निवासी रमेश कश्यप भी कोरोना मददगार बनकर उभरे हैं। वे कोरोना काल में लोगों की मदद के लिए आगे आए हैं।

यह भी पढ़ें :  दंतेवाड़ा में कोटवार की हत्या, घर से बाहर निकाल कर रेत दिया गला... नक्सली वारदात की आशंका!

रमेश कश्यप ने विश्वव्यापी कोविड-19 महामारी के नियंत्रण में सहयोग स्वरुप स्वेच्छा से जिला प्रशासन सुकमा को 1000 नग फेसमास्क, 12 नग आक्सीमीटर एवं 100 नग हेण्ड सेनिटाईजर प्रदान किया। ताकि सुकमा जिले के निर्धन, असहाय व जरुरतमंद लोगों की कोरोना नियंत्रण मे सहयोग प्रदान की जा सके।

read more

 

यह भी पढ़ें :  स्याह अँधेरे जंगल में रूकी फोर्स और बरामद किए आईईडी बनाने के उपकरण... कातिलाना खतरों के बीच धुर नक्सली गांवों में लोगों की मदद भी की

आपको बता दें कि रमेश कश्यप ने पिछले साल कोरोना के शुरूआती दौर में भी मुख्यमंत्री सहायता कोष मे 21 हजार की धनराशि का योगदान किया था। वहीं अब कोरोना की दूसरी लहर में उन्होंने मास्क‚ आक्सीमीटर एवं हेण्ड सेनिटाईजर वितरण करने प्रशासन को साैंपा है। उनके इस पहल की सर्वत्र प्रशंसा हो रही है।