इंद्रावती के टापू में बसे गांव में पहुंचे विधायक विक्रम मण्डावी… ‘कालापानी’ में मिलेगा अब साफ पानी, सात नलकूप खोदे जाएंगे

91
MLA Vikram Mandavi arrives in the village settled in the island of Indravati

इंद्रावती के टापू में बसे गांव में पहुंचे विधायक विक्रम मण्डावी… ‘कालापानी’ में मिलेगा अब साफ पानी, सात नलकूप खोदे जाएंगे

पंकज दाऊद @ बीजापुर। भैरमगढ़ ब्लाॅक की उसकापटनम पंचायत के गांव बीराभट्टी में अब लोगों को इंद्रावती नदी और चुएं के पानी की मजबूरी नहीं झेलनी होगी। चारों ओर से इंद्रावती के पानी से घिरे इस गांव में अब सात बोर खोदे जा रहे हैं।

यहां से करीब 55 किमी दूर भैरमगढ़ ब्लाॅक की उसकापटनम पंचायत के गांव बीराभट्टी की भौगोलिक स्थिति बड़ी अजीबोगरीब है। ये गांव चारों ओर से इंद्रावती नदी के पानी से साल भर घिरा रहता है और छह माह तक तो ये गांव कालापानी बना रहता है।

Read More: 

 

यह भी पढ़ें :  बस्तर में बनेगा जनजातीय संग्रहालय, किसान मार्केट भी बनेंगे... नदी को जिंदा रखने बनेगा इंद्रावती प्राधिकरण

बता दें कि ये टापू में बसा एक गांव है और इसमें सात टोले हैं। 35 घरों वाले इस गांव की आबादी कोई 175 होगी। इस गांव के लोगों ने कुछ दिनों पहले बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं विधायक विक्रम शाह मण्डावी से मुलाकात कर उन्हें समस्याओं से अवगत कराया था।

MLA Vikram Mandavi arrives in the village settled in the island of Indravati

इस पर बुधवार को विक्रम शाह मण्डावी खुद पैदल नदी पार कर गांव पहुंचे। उनके साथ जनपद सीईओ योगेश यादव, एसडीओ एमआर नेताम, जिला पंचायत सदस्य सोमारू नाग, कांग्रेस प्रवक्ता ज्योति कुमार एवं अन्य जनप्रतिनिधि शामिल थे।

Read More: 

 

यह भी पढ़ें :  दंतेवाड़ा में 24 घंटे के भीतर दूसरा सड़क हादसा... कटेकल्याण रोड़ में यात्री बस पलटी, 15 यात्री जख्मी

प्रवास से पहले विधायक विक्रम मण्डावी ने बोरवेल मशीन की व्यवस्था करवा दी थी। यहां 6 सोलर नलकूप खनन का प्रस्ताव था लेकिन एक और नलकूप खोदा जाएगा। ये ग्रामीणों की मांग पर किया गया। विधायक ने गांव में आंगनबाड़ी भवन और प्राथमिक शाला भवन को बनवाने सीईओ योगेश यादव से कहा। इन भवनों पर शीट लगेगी ताकि काम जल्द पूरा हो सके।

MLA Vikram Mandavi arrives in the village settled in the island of Indravati

विधायक ने लोगों से गांव की समस्याओं के बारे में पूछताछ की। नए राशन कार्ड बनवाने, वृद्धवस्था पेंषन, राशन वितरण आदि के बारे में विधायक ने सवाल किए। उन्होंने कहा कि स्कूल भवन बनने पर गांव के ही 12वीं पास युवा की भर्ती शिक्षक के तौर पर कर दी जाएगी। लोगों ने बताया कि आपात स्थिति में नदी पार तक एंबुलेंस आती है।

यह भी पढ़ें :  नक्सलियों के पीएलजीए सप्ताह का पहला दिन, तेलंगाना और बासागुड़ा की ओर जाने वाली बसों को फोर्स ने रोका

Read More: 

ज्ञात हो कि इस गांव में पिछले साल से ही सोलर लाइट लगी है। इस मौके पर सरपंच रैनू वाचम ने कहा कि गांव में नलकूप खनन से लोगों में बेहद खुशी है। अब तक गांव के लोग इंद्रावती नदी और कुंए का गंदला पानी पीने को मजबूर थे।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…

ख़बर बस्तर के WhatsApp ग्रुप में जुड़ने के लिए इस Link को क्लिक कीजिए….