झीरम घाटी हमले के मास्टरमाइंड नक्सली कमांडर विनोद की मौत… कोरोना से संक्रमित था, 15 लाख का इनाम रखा था सरकार-NIA ने

87

झीरम घाटी हमले के मास्टरमाइंड नक्सली कमांडर विनोद की मौत… कोरोना से संक्रमित था, 15 लाख का इनाम रखा था सरकार-NIA ने

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। देशभर में भले ही कोरोना की रफ्तार कम हुई हो लेकिन यह महामारी नक्सलियों के लिए काल साबित हो रही है। कोविड के चलते कई माओवादी लीडर्स की मौत पहले ही हो चुकी है। वहीं अब एक और हार्डकोर नक्सली कोरोना का शिकार बना है।

दक्षिण बस्तर में सालों से सक्रिय नक्सली कमांडर विनोद की सोमवार की रात कोरोना से मौत हो गई है। उस पर 15 लाख का इनाम घोषित था। दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने मामले की पुष्टि की है। बताया गया है कि विनोद लंबे समय से गंभीर बीमारियों से जूझ रहा था। इसी बीच उसे कोरोना हो गया था।

यह भी पढ़ें :  पूर्व CM अजीत जोगी की तबीयत बिगड़ी, निजी अस्पताल में भर्ती

आपको बता दें कि दंतेवाड़ा के नहाड़ी गांव का निवासी नक्सली विनोद उर्फ हेमला हूंगा उर्फ चप्पे हूंगा साल 2013 में हुए झीरम घाटी नक्सली हमले का मास्टरमाइंड था। वहीं अप्रैल 2019 में श्यामगिरी के पास दंतेवाड़ा विधायक भीमा मंडावी पर हुए हमले में भी उसकी अहम भूमिका थी।

 

इस घटना में विधायक मंडावी के अलावा उनकी सुरक्षा में लगे 3 जवान और एक ड्राइवर की मौत हो गई थी। नक्सली कमांडर विनोद पर छत्तीसगढ़ सरकार ने 10 लाख और NIA ने 5 लाख रुपए का इनाम रखा था। विनोद दरभा डिवीजन का कमांडर था। वहीं मलांगिर एरिया कमेटी व डिवीजन कमेटी DKMAS की भी जिम्मेदारी उसके कंधों पर थी।

यह भी पढ़ें :  आल्टो कार की डिक्की में रखा था कुछ ऐसा कि पुलिस भी रह गई दंग... जानिए फिर दोनों आरोपियों का क्या हुआ !

सरेंडर करें नक्सली- एसपी

नक्सली कमांडर की मौत की जानकारी देते दंतेवाड़ा एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि सोमवार की रात नक्सली कमांडर विनोद की मौत हो गई। कई दिनों से बीमार माओवादी कोरोना से भी संक्रमित था। एसपी ने कहा कि कई नक्सली लीडर अब भी कोरोना से जूझ रहे हैं। हमारी अपील है कि वे सरेंडर कर दें। उनका इलाज कराने पुलिस तैयार है।