प्राईवेट हॉस्पिटल में भर्ती नक्सली कमांडर पकड़ाया, नाम बदलकर इलाज करवा रहा था इनामी माओवादी

2850

प्राईवेट हॉस्पिटल में भर्ती नक्सली कमांडर पकड़ाया, नाम बदलकर इलाज करवा रहा था इनामी माओवादी

रायपुर @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले में पुलिस ने एक निजी अस्पताल में दबिश देकर 5 लाख के इनामी नक्सली को गिरफ्तार किया है। पुलिस का दावा है कि अस्पताल में नक्सली अपना नाम बदलकर इलाज करवा रहा था।

जानकारी के मुताबिक, बेमेतरा के एके मल्टीस्पेशलिस्ट अस्पताल से पुलिस ने गुरूवार को नक्सली कमांडर की गिरफ्तारी की है। दरअसल, पुलिस को सूचना मिली थी कि इस अस्पताल में एक संदिग्ध व्यक्ति इलाज करवा रहा है। इन इनपुट के बाद पुलिस ने अस्पताल में दबिश देकर नक्स​ली को हिरासत में लिया।

यह भी पढ़ें :  कांग्रेस नेत्री का कथित ऑडियो हुआ वायरल, जानिए ऐसा क्या कहा कि मच गया बवाल !

पुलिस के अनुसार अस्पताल से पकड़ा गया नक्सली जय राम गुरुटी कोयलीबेड़ा दलम का एलओसी कमांडर है। उस पर 5 लाख का इनाम घोषित है। आरोपी नक्सली कमांडर डोमर सिंह ग्राम सलधा के नाम से भर्ती होकर अपना इलाज करा रहा था।

मददगारों की तलाश कर रही पुलिस

नक्सली को अस्पताल में एडमिट कराने में सहयोग करने वाले दो साथियों के अलावा कुछ अन्य सहयोगियों की भी पुलिस तलाश कर रही है। इधर, सुरक्षा के लिहाज से हॉस्पिटल को खाली कराकर सील कर दिया गया है। डीवीआर समेत अस्पताल के सारे रिकॉर्ड जब्त कर लिए गए हैं।

यह भी पढ़ें :  CM भूपेश बघेल का बस्तर दौरा, 104 करोड़ के विकास कार्यों की देंगे सौगात... जानिए मुख्यमंत्री का मिनट टू मिनट कार्यक्रम

पुलिस का कहना है कि नक्सली कमांडर को कांकेर जिले के अंतागढ़ एक डॉक्टर ने खुद की गाडी से बेमेतरा में लाकर पेट दर्द का इलाज करने अस्पताल में भर्ती किया था। आरोपी नक्सली के साथ 10 साल के एक बच्चे को भी अभिरक्षा में रखा गया है।

बेमेतरा के एसपी धर्मेन्द्र सिंह ने बताया कि रायपुर से मिले इनपुट के आधार पर यह कार्रवाई की गई है। नगर के एक अस्पताल में एक संदिग्ध मरीज का उपचार चलने की सूचना मिलने पर अस्पताल में पुलिस और प्रशासन की टीम ने पहुंचकर पूछताछ की और नक्सली को हिरासत में ले लिया।

यह भी पढ़ें :  लाॅकडाउन: सड़कों में सन्नाटा और सब्जी बाजार सूने... एक ही दिन में 16 नए केस, इधर 20 हजार का जुर्माना