नक्सलियों ने ग्रामीणों की बेरहमी से की पिटाई, दुधमुंहे बच्चे की मां को भी नहीं बख्शा… ठेकेदार को दी जान से मारने की धमकी !

35
Naxalites brutally beat up villagers

नक्सलियों ने ग्रामीणों की बेरहमी से की पिटाई, दुधमुंहे बच्चे की मां को भी नहीं बख्शा… ठेकेदार को दी जान से मारने की धमकी !

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। दक्षिण बस्तर में नक्सलियों का स्याह चेहरा एक बार फिर सामने आया है। दंतेवाड़ा जिले के परचेली गांव में माओवादियों ने ग्रामीणों की बेदम पिटाई की। नक्सलियों की बर्बरता ऐसी थी कि उन्होंने दुधमुंहे बच्चों की मांओं तक को नहीं बख्शा। नक्सलियों द्वारा की गई पिटाई से जख्मी ग्रामीणों को पुलिस ने अस्पताल पहुंचाया है।

Naxalites brutally beat up villagers

यह पूरा मामला कटेकल्याण थाना क्षेत्र के परचेली पोरबदर पारा का है। पुलिस के मुताबिक, 17 जुलाई की रात करीब 9 बजे परचेली में कटेकल्याण एरिया कमेटी के सचिव मंगतू के नेतृत्व में लगभग 20-25 की संख्या में नक्सली पहुंचे और ग्रामीणों को घरों से जबरन निकाल कर पास के जंगल में ले कर गए और सभी के साथ बेरहमी के साथ मारपीट की।

यह भी पढ़ें :  बीजापुर में फिर मंडराया बाढ़ का खतरा, नदी नाले उफान पर... कलेक्टर ने ग्रामीणों से एहतियात बरतने अपील की

Read More: 

 

नक्सलियों ने ग्रामीणों से पूछा कि वे प्रशासन एवं पुलिस अधिकारियों से क्यों मिले, जिस पर ग्रामीणों ने बताया कि वे गांवों मे सड़क, बिजली, स्कूल तथा विकास चाहते हैं। इससे नक्सली हिंसा मे उतर आए और लाठी व डंडे से ग्रामीणों की पिटाई शुरू कर दी। माओवादियों ने महिलाओं तथा बच्चों से भी मारपीट कर बुरी तरह घायल कर दिया।

यह भी पढ़ें :  कंटीले तार में फंसकर घायल चीतल की सदमे से मौत

Read More: 

घटना की सूचना मिलने पर पुलिस गांव में पहुंची और मारपीट में गंभीर रूप से घायल 7 ग्रामीणों को एम्बुलेंस द्वारा जिला अस्पताल दंतेवाड़ा मे भर्ती कराया गया। घायलों के नाम कोया पोडियामी, मासा, लक्षु कोवासी, हड़मा, बुधराम, भीमा और लखमी हैं।

Naxalites brutally beat up villagers

बताया जा रहा है कि नक्सलियों ने ग्रामीणों के साथ बेरहमी से मारपीट की है। कुछ ग्रामीणों के गुप्तांग को चोट पहुचाया गया है। वहीं कुछ ग्रामीणों को गर्म सरिए से भी जलाया गया है।

Naxalites brutally beat up villagers

ठेकेदार को जान से मारने की धमकी

यह भी पढ़ें :  ब्रितानी हुकूमत में नीलगाय के चमड़े की बनती थी चप्पलें... अब अपना पेशा छोड़ने लगे हैं लोग

इधर, नक्सलियों ने रविवार को कुछ इलाकों में पर्चे भी फेंके हैं। जिसमें सोमडू नाम के नक्सली ने गुमियापाल और आसपुर में स्कूल का निर्माण कर रहे ठेकेदार रविंद्र सोनी को जान से मारने की बात लिखी गई है। गुमियापाल और आस-पास के गांवों के 20 लोगों को भी पुलिस का सहयोगी बताकर मार डालने की धमकी वाली लिस्ट जारी की गई है।

Read More: 

 

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…