नक्सलियों ने DRG जवान के मां-बाप का किया अपहरण…SP बोले- ‘लोन वर्राटू’ अभियान की कामयाबी से बौखला गए हैं नक्सली

69
Naxalites killed a youth on the charge of police informer

दंतेवाड़ा में नक्सली करतूत, DRG के जवान के मां-बाप का किया अपहरण…SP बोले- ‘लोन वर्राटू’ अभियान की कामयाबी से बौखला गए हैं माओवादी

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले से बड़ी खबर आ रही है। यहां नक्सलियों ने जिला पुलिस बल में पदस्थ डीआरजी के जवान के बुजुर्ग माता पिता का अपहरण कर लिया है।

Naxalites killed a youth on the charge of police informer

पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव ने घटना की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि किरंदुल थाना क्षेत्र के अंतर्गत गुमियापाल गांव में सोमवार की रात नक्सली पहुंचे और डीआरजी के जवान अजय तेलाम के पिता लच्छु तेलाम (64 वर्ष) और माता विज्जो तेलाम (62 वर्ष) को अपने साथ लेकर चले गए।

Read More: 

 

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में 'लू' को लेकर 'येलो अलर्ट' जारी... CM भूपेश ने अफसरों को अलर्ट रहने के दिए निर्देश

एसपी डॉ. पल्लव के मुताबिक, नक्सलियों ने घटना को अंजाम देने के दौरान जवान की बहन के साथ मारपीट भी की और उसका मोबाइल फोन छीनकर मौके से फरार हो गए। एसपी ने बताया कि अजय तेलाम पिछले साल डीआरजी में भर्ती हुआ था। वह दंतेवाड़ा स्थित पुलिस शिविर में रहता है।

Read More: 

‘लोन वर्राटू’ अभियान से बौखलाए नक्सली

यह भी पढ़ें :  NMDC में स्थानीय युवाओं को मिले रोजगार में प्राथमिकता, जिपं अध्यक्ष तुलिका कर्मा ने प्रबंधन को सौंपी 150 नामों की सूची

दंतेवाड़ा एसपी का कहना है कि पुलिस द्वारा चलाए जा रहे ‘लोन वर्राटू’ अभियान से नक्सलियों की जमीन खिसकने लगी है। इससे वे बौखलाए हुए हैं और पुलिस जवानों के परिजनों को निशाना बना रहे हैं। नक्सलियों ने हाल ही में हिरोली गांव में एक पुलिसकर्मी के रिश्तेदार की हत्या कर दी थी।

पुलिस अधीक्षक पल्लव ने बताया कि पुलिस जवान अजय के माता पिता की तलाश शुरू कर दी गई है। नक्सलियों के कब्जे से उन्हें छुड़ाने के लिए ग्रामीणों से संपर्क किया जा रहा है। जल्द ही दोनों की रिहाई होगी।

अभियान को मिल रही कामयाबी

बता दें कि दंतेवाड़ा पुलिस द्वारा शुरू किए गए ‘लोन वर्राटू’ अभियान को लगातार सफलता मिल रही है। अब तक दो दर्जन से ज्यादा नक्सलियों ने इस अभियान से प्रभावित होकर आत्मसमर्पण किया है। इनमें कई ईनामी नक्सली भी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें :  नक्सल प्रभावित इलाकों के युवाओं को CRPF दे रही ड्राइविंग की ट्रेनिंग, विरोधी विचारधारा के खात्मे का एक तरीका ये भी

Read More: 

एसपी डॉ. पल्लव के मुताबिक, गुमियापाल इलाके के 15 से 20 नक्सली सरेंडर करने के पुलिस से संपर्क करने की कोशिश में थे। संभवत: इसकी भनक लगने पर नक्सलियों ने डीआरजी के जवान अजय के परिवार को निशाने पर लिया है।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…

ख़बर बस्तर के व्हॉट्सएप्प ग्रुप में जुड़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए….