सरपंच पति की हत्या… नक्सलियों ने 2 दिन पहले किया था अगवा, जन अदालत में मौत के घाट उतारा

2706
Former assistant constable murdered in Bijapur

सरपंच पति की हत्या… नक्सलियों ने 2 दिन पहले किया था अगवा, जन अदालत में मौत के घाट उतारा

सुकमा @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के घोर नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में माओवादियों ने एक और बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। नक्सलियों ने कथित जन अदालत लगाकर एक ग्रामीण की हत्या कर दी है। मृतक सरपंच का पति बताया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक माओवादियों ने चिंतलनार थाना क्षेत्र के अंतर्गत सुरपनगुड़ा के सरपंच मड़कम नंदे के पति मड़कम सन्ना की हत्या कर दी है। इस घटना के बाद इलाके में दहशत व्याप्त है।

यह भी पढ़ें :  मुख्यमंत्री भूपेश के जन्मदिन पर CM हाउस में नहीं होगा जश्न, सीएम ने की ये अपील... ऐसे दे सकते हैं बधाई

बताया जाता है कि नक्सलियों ने घने जंगलों के बीच जन अदालत लगाई और मड़कम सन्ना पर फोर्स को मदद करने का आरोप लगाते हुए मौत के घाट उतार दिया। नक्सली सन्ना को दो दिन पहले अगवा कर अपने साथ लेकर गए थे।

4 accused including Soni Sodhi acquitted in Essar-Naxal funding case

पुलिस के मुताबिक, मंगलवार को मड़कम सन्ना कुछ काम से जगरगुंडा गया था। वहां से वह शाम को गांव लौट आया था। इसके बाद रात को कुछ हथियारबंद नक्सली रात में उसके घर आ धमके और उसे अपने साथ लेकर चले गए। नक्सलियों के भय की वजह से परिजनों ने पुलिस को इसकी जानकारी नहीं दी।

यह भी पढ़ें :  अपहृत इंजीनियर पति को छुड़ाने जंगल में भटक रही सोनाली... नक्सलियों से लगाई गुहार, अब CM भूपेश बघेल से की ये अपील !

बताया गया है कि नक्सलियों ने चिन्ना बोड़ेकोल के जंगलों में जन अदालत लगाकार सरपंच पति की हत्या कर दी। सुकमा एसपी सुनील शर्मा ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि नक्सली घटते जनाधार से बैकफुट पर हैं और ऐसी घटनाओं को अंजाम देकर क्षेत्र में दहशत फैलाना चाहते हैं।