NHM के 205 अधिकारी-कर्मचारियों ने दिया सामूहिक इस्तीफा, प्रशासन की कार्रवाई के विरोध में लिया फैसला

41

NHM के 205 अधिकारी-कर्मचारियों ने दिया सामूहिक इस्तीफा, प्रशासन की कार्रवाई के विरोध में लिया फैसला

मो. इमरान खान @ भोपालपटनम। स्वास्थ्य विभाग के एनएचएम कर्मचारियों को अलग-अलग जिले में नौकरी से निकाल देने के बाद नाराज अधिकारी कर्मचारियों ने आज जिला मुख्यालय व ब्लाक मुख्यालय में सामूहिक इस्तीफा दे दिया है।

बता दें कि बीजापुर जिले में 205 संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी पिछले चार दिनों से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर थे। प्रशासन द्वारा लगातार एस्मा एक्ट के तहत कार्रवाई करने का हवाला देते हुए हन्हें काम पर लौटने की चेतावनी दी जा रही थी। इसके बावजूद एनएचएम कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर आंदोलनरत थे।

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में 458 पदों के लिए निकली है वैकेंसी... 21 अप्रैल तक करें ऑनलाइन आवेदन

Read More: नक्सली वारदात: पत्नी को जान से मारने की धमकी दी और घर के सामने ही किसान की कर दी हत्या… दो दिन पहले ही वारंगल से लौटा था मृतक

इधर, कई जिलो में प्रशासन द्वारा हड़ताली कर्मचारियों के खिलाफ एकतरफा कार्रवाई करते हुए इन्हें बर्खास्त कर दिया था। इस कार्रवाई पर नाराजगी जाहिर करते हुए जिले में कार्यरत सभी 205 एनएचएम कर्मचारियों ने सामूहिक रूप से त्यागपत्र दे दिया है।

यह भी पढ़ें :  कोविड मरीजों को परोसने से पहले SDM परख रहे भोजन की क्वालिटी, महामारी से लड़ाई में प्रशासनिक टीम मुस्तैद

कर्मचारियों ने इस्तीफे में उल्लेखित किया है कि हम सभी कर्मचारी राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अंतर्गत संविदा के पद पर योजना के प्रारंभ से आज तक कार्यरत हैं। इसके बावजूद हमें मूलभूत सुविधाओं की पूर्ति नहीं हो रही है। हमने अपनी समस्याओं एवं मांगों से शासन को अवगत कराया लेकिन आज तक शासन ने सकारात्मक कदम नहीं उठाया।

Read More:


अब अपनी मांगों के समर्थन में जब सभी हड़ताल पर चले गए तो कर्मचारियों पर कार्रवाई शुरू कर दी गई है। इसके विरोध में हम सभी कर्मचारी अपना सामूहिक त्यागपत्र देने के लिए विवश हैं। 

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…
यह भी पढ़ें :  कांगेर वेली में 'नेचरल ट्रेल' की आस जगी, पहली नवंबर से नेशनल पार्क खुलने की उम्मीद