बाढ़ का कहर: एक हफ्ते से टापू बना य​ह गांव, राशन और दवा लेकर पहुंचे अफसर… गांव तक जाने बोट ही एकमात्र सहारा

62
Officers arrived in flood affected areas with ration and medicine

बाढ़ का कहर: एक हफ्ते से टापू बना य​ह गांव, राशन और दवा लेकर पहुंचे अफसर… गांव तक जाने बोट ही एकमात्र सहारा

पंकज दाऊद @ बीजापुर। भारी बारिश के चलते भोपालपटनम ब्लाक का मिनूर गांव एक सप्ताह से टापू बना हुआ है और जिले के प्रशासनिक अफसर इस गांव के लोगों की बेहतरी के लिए लगातार नजर रखे हुए हैं। बारिश कुछ कम हुई तो बोट से जनपद सीईओ मनोज बंजारे और तहसीलदार शिवनाथ बघेल खुद गांव के लोगों तक पहुंचे।

Officers arrived in flood affected areas with ration and medicine

बताया गया है कि 16 अगस्त से भोपालपटनम तहसील का मिनूर गांव चारों ओर से उफनते नदी-नालों से टापू बना हुआ है। नेशनल हाईवे के गोरला गांव के निकट ये गांव बसा हुआ है। भारी बारिश के चलते एक सप्ताह से इन दोनों गांवों के बीच आवागमन ठप है।

यह भी पढ़ें :  कोरोना पाॅजीटिव मरीजों के संपर्क में आए लोगों पर भी है नजर, 200 शिक्षकों की तैनाती

Read More:

 

पानी की उफनती धाराओं और उसके नीचे के चट्टानों ने मोटरबोट के विकल्प पर दुविधा की स्थिति बना रखी थी। 16 अगस्त से ही एसडीएम उमेश पटेल, जनपद सीईओ मनोज बंजारे एवं तहसीलदार शिवनाथ बघेल लगातार दौरा कर रहे हैं। दो दिन कम बारिश होने से शनिवार को मिनूर गांव के लोगों तक पहुंचने का अवसर मिल गया।

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में IAS अफसरों का ट्रांसफर... इन जिलों के बदले गए कलेक्टर, OSD की भी हुई नियुक्ति

एसडीएम उमेश कुमार पटेल ने विभिन्न विभागों से आपसी तालमेल कर बाढ़ में फंसे ग्रामीणों से संपर्क किया। नगरसेना के जवानों के साथ तहसीलदार व जनपद सीईओ मिनूर पहुंचे। ग्रामीणों के पशु, मकान एवं खेत को हुई क्षति का आकलन एवं प्रकरण तैयार करने पटवारी भी साथ थे। बाढ़ प्रभावितों को राशन व अन्य जरूरी सामग्री दी गई।

Read More:

 

यह भी पढ़ें :  अवैध रेत संग्रहण के खिलाफ SDM की बड़ी कार्रवाई, 500 ट्रॉली से ज्यादा अवैध रेत जब्त !

इधर, आदिम जाति कल्याण विभाग की ओर से बाढ़ पीड़ितों को कंबल उपलब्ध कराया गया। इसका वितरण प्रभारी अधीक्षक शनिराव मरपल्ली कर रहे हैं। इस अभियान में होम गार्ड हरि प्रसाद तलाण्डी, वासम कन्तैया, गोरला नारायण, दासरू कुंजाम, उर्रा माड़वी व ब्रह्मानंद कुंजाम ने साहस एवं सूझबूझ का परिचय दिया।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…