दीपक कर्मा के निधन से कांग्रेस आलाकमान दुखी, राहुल गांधी ने मां देवती कर्मा को लिखा पत्र… कहा— हमने कांग्रेस विचारधारा को समर्पित एक योद्धा खो दिया

65

दीपक कर्मा के निधन से कांग्रेस आलाकमान दुखी, राहुल गांधी ने मां देवती कर्मा को लिखा पत्र… कहा- हमने कांग्रेस विचारधारा को समर्पित एक योद्धा खो दिया

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। कांग्रेस प्रदेश महासचिव दीपक कर्मा के निधन से दंतेवाड़ा से लेकर दिल्ली तक में शोक की लहर है। युवा नेता के आकस्मिक देहावसान पर कांग्रेस आलाकमान ने भी दुख जताया है।

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने दंतेवाड़ा विधायक देवती महेन्द्र कर्मा को पत्र लिख कर दीपक कर्मा के निधन पर अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है।

राहुल ने अपनी चिट्ठी में लिखा— ‘कांग्रेस के कर्मठ युवा नेता दीपक कर्मा के आकस्मिक निधन की खबर से स्तब्ध हूं। हमने एक ऐसा नौजवान योद्धा खो दिया जो पूरी तरह कांग्रेस विचारधारा को समर्पित था। मुझे एहसास है कि आपके व आपके परिवार के लिए यह पीड़ा कितनी बड़ी क्षति होगी।’

यह भी पढ़ें :  मेडिकल कॉलेज में पदस्थ स्टॉफ नर्स निकली कोरोना पॉजिटिव, संजय मार्केट एरिया सील

‘इस कठिन समय में हम सब आपके साथ हैं। मैं आपके पूरे परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं।’

– राहुल गांधी का पत्र

आपको बता दें कि गुरूवार तड़के रायपुर के एमएमआई नारायणा अस्पताल में इलाज के दौरान कांग्रेस नेता दीपक कर्मा का निधन हो गया था। बीते 12 अप्रैल को दीपक कोरोना सं​क्रमित पाए गए थे। इसके बाद उन्हें जगदलपुर मेडिकल कालेज अस्पताल में भर्ती कराया गया, फिर तबीयत बिगड़ने पर रायपुर रेफर किया गया था। वे पिछले करीब 25 दिनों से कोरोना से जंग लड़ रहे थे।

यह भी पढ़ें :  बस्तर टाईगर की समाधि पर माल्यार्पण कर देवती कर्मा ने भरा नामांकन... भाजपा-कांग्रेस कल दिखाएंगे दमखम

Read More:

 

राहुल गांधी से रही करीबी

दीपक कर्मा बेहद सरल, सहज व सौम्य शख्सियत के मालिक थे। अपनी मिलनसार छवि के चलते वे दंतेवाड़ा से लेकर बस्तर व प्रदेश में खासे लोकप्रिय थे। राहुल गांधी से उनका करीबी रिश्ता रहा। बस्तर के चुनिंदा लोग ऐसे हैं जिनका राहुल से सीधा राब्ता रहा है। दीपक उनमें सर्वोपरि थे।

– चुनाव प्रचार के दौरान की तस्वीर (File Photo)

राहुल गांधी की करीबी के चलते 2014 के लोकसभा चुनाव में दीपक कर्मा बस्तर सीट से कांग्रेस उम्मीदवार बने। दीपक के चुनाव प्रचार में खुद राहुल गांधी बस्तर आए थे। हालांकि, इस चुनाव में दीपक को हार का सामना करना पड़ा। दीपक कर्मा दंतेवाड़ा नगरपालिका के 3 बार लगातार अध्यक्ष रहे। इसके अलावा पार्टी में कई महत्वपूर्ण पदों की जिम्मेदारी भी उन्होंने बखूबी निभाई।

यह भी पढ़ें :  लॉकडाउन: कलेक्टर ने जनता से की अपील, बोले- कोरोना से जंग जीतने सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से करें पालन

गृहग्राम में हुआ अंतिम संस्कार

गुरूवार की दोपहर दीपक कर्मा का पार्थिव शरीर गृहग्राम फरसपाल लाया गया। जहां कोरोना प्रोटोकाल के तहत उनका अंतिम संस्कार किया गया। उनके 12 साल के बेटे आयुष कर्मा ने पीपीई किट पहनकर मुखाग्नि दी। इस दौरान मौके पर मौजूद लोगों की आंखें नम हो गई थी।