छत्तीसगढ़: 30 सितंबर तक नहीं खुलेंगे स्कूल, सिर्फ ऑनलाइन होगी पढ़ाई

34

छत्तीसगढ़: 30 सितंबर तक नहीं खुलेंगे स्कूल, सिर्फ ऑनलाइन होगी पढ़ाई

रायपुर @ खबर बस्तर। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के चलते छत्तीसगढ़ में निजी और सरकारी स्कूल आगामी 30 सितंबर तक नहीं खुलेंगे। इस दौरान केवल ऑनलाइन माध्यमों से ही पढ़ाई होगी।

स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला ने साफ कर दिया कि 21 सितंबर के बाद 9वीं-12वीं के छात्रों को विषय से जुड़ी शंका के समाधान के लिए स्कूल आने की अनुमति दी जाए या नहीं, यह भी कोरोना की तात्कालिक परिस्थितियों के मद्देनजर तय किया जाएगा।

Read More:

बता दें कि केंद्र सरकार की ताजा गाइडलाइन में राज्यों को यह अधिकार दिया गया है कि वे छात्रों को उनके पालकों की लिखित अनुमति से स्कूल आने की छूट दे सकते हैं। गाइडलाइन में यह भी कहा गया है कि 21 सितंबर से अगर राज्य चाहे तो 50 प्रतिशत शिक्षकों को स्कूल बुला सकते हैं।

यह भी पढ़ें :  करोड़ों की चपत लगाकर चिट फण्ड कंपनियां हो गई चंपत... एजेंट भी हुए भूमिगत, प्रशासन ने बनाया दबाव

Read More: SBI ब्रांच में कोरोना विस्फोट, 14 में से 9 कर्मचारी निकले पाॅजीटिव… ऑटो पार्ट्स की 2 दुकानें सील, शिक्षक व सचिव की कोरोना से मौत

शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव ने कहा कि इन सभी मुद्दों पर प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। हालांकि, इस विषय में फैसला शासन को करना है, लेकिन स्कूल खुलने के मामले में केंद्र की पहली अनलाॅक गाइडलाइन में ही कहा गया है कि स्कूल 30 सितंबर तक नहीं खुलेंगे।

यह भी पढ़ें :  वन विभाग में बड़ा फेरबदल: 23 IFS अफसरों का हुआ तबादला, सरकार ने जारी की ट्रांसफर लिस्ट...देखिए पूरी सूची

Read More:

ऐसे में शिक्षक स्कूल आकर ऑनलाइन कक्षाएं लें, या फिर घर से ऑनलाइन हों, इसमें ज्यादा अंतर नहीं है। इस मामले में भी शासन स्तर पर फैसला जल्द ले लिया जाएगा।

Read More: कोरोना टेस्ट के नाम पर गर्भवती महिलाओं से दुष्कर्म, आरोपी स्वास्थ्यकर्मी गिरफ्तार

यह भी पढ़ें :  सुकमा में पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में मारा गया एक माओवादी, भरमार बरामद

केंद्र सरकार की ताजा गाइडलाइन में हाई स्कूल व हायर सेकेंडरी के छात्रों को विषय से संबंधित संदेह दूर करने के लिए स्कूल आने की छूट देने का अधिकार दिया है। माना जा रहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण बढ़ने की दशा में छात्रों को शंका-समाधान के लिए भी स्कूल आने की छूट देने की संभावना कम ही है।