अनूठी शादी : गोद में 2 बेटियों को लेकर युवक ने 2 दुल्हनों संग रचाई शादी… कहा- “दोनों से प्यार हुआ, दोनों का साथ निभाउंगा”

2842

अनूठी शादी : गोद में 2 बेटियों को लेकर युवक ने 2 दुल्हनों संग रचाई शादी… कहा- “दोनों से प्यार हुआ, दोनों का साथ निभाउंगा”

कोंडागांव @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में एक अनूठी शादी का मामला सामने आया है, जहाँ एक शख्स ने एक साथ एक ही मंडप में दो युवतियों के साथ 7 फेरे लिए।

खास बात यह है कि दोनों युवतियों की रजामंदी से यह शादी हुई, जिसका गवाह पूरा गांव बना।

केशकाल के ईरागांव क्षेत्र के ग्राम उमला में यह अनूठी शादी हुई। जहां दूल्हा शादी से पहले ही दो बच्चों का बाप बन गया। गोद में दो नन्ही बेटियों को लेकर एक ही मंडप पर शख्स ने दो युवतियों से शादी की।

यह भी पढ़ें :  7 CRPF जवानों की हत्या में शामिल नक्सली गिरफ्तार, मैलावाड़ा ब्लॉस्ट की घटना में था शामिल

दूल्हे ने कहा कि दोनों से प्यार हुआ, तो शादी कर लिया। अब जीवन भर दोनों का साथ निभाउंगा।

बता दें कि ईरागांव थाना अंतर्गत ग्राम उमला निवासी युवक रजनसिंह पिता सुखराम सलाम ने ग्राम आडेंगा निवासी दुर्गेश्वरी मरकाम से विवाह का प्रस्ताव रखा। समाज के लोगों के बीच हुई सगाई के बाद लड़की लड़का के घर रहने लगी। कुछ माह बाद एक बच्ची पैदा हुई।

इसी बीच रजनसिंह को आंवरी निवासी सन्नो बाई गोटा के साथ भी प्रेम हो गया। सन्नो और रजनसिंह का प्रेम इतना आगे बढ़ गया कि एक बेटी का भी जन्म हो गया। युवतियों से प्रेम संबंध के चलते बिना शादी किए दोनों युवतियों को बेटियां हो गई।

यह भी पढ़ें :  लॉकडाउन में बड़ी तबाही मचाने की फिराक में थे नक्सली, कटेकल्याण रोड़ में सड़क के बीचों बीच खोद रखा था सुरंग...जवानों ने मंसूबे को किया नाकाम

इस मामले की जानकारी लगते ही गांव के लोगों के बीच तरह-तरह की बातें होनी लगी, तो रजनसिंह ने परिवार और समाज की रजामंदी के बाद युवक ने दोनों युवतियों से शादी करने का फैसला ले लिया।

धूमधाम से हुई शादी

आदिवासी समाज के उपाध्यक्ष सोनूराम मंडावी ने बताया कि समाज और परिवार की रजामंदी के बाद युवक की दो युवतियों से शादी करवाई गई। शादी कार्ड में बाकायदा दोनों ही युवतियों का नाम छपवाया गया।

यह भी पढ़ें :  VIDEO : मुठभेड़ में मारे गए नक्सलियों के पास से मिली 'गोंडी में लिखी चिट्ठी'... देखिए SP ने क्या कहा

वैवाहिक कार्यक्रम के तहत 8 मई को लगन और टिकावान रखा गया। इस शादी में ग्राम उमला समेत आसपास के गांव के करीब 500 से 600 लोग आशीर्वाद देने पहुंचे थे।