कोंडागांव में पकड़ाया 2 करोड़ का गांजा… नारियल के नीचे गांजा छिपाकर ले जा रहे थे तस्कर, दो आरोपी गिरफ्तार

1743

कोंडागांव में पकड़ाया 2 करोड़ का गांजा… नारियल के नीचे गांजा छिपाकर ले जा रहे थे तस्कर, दो आरोपी गिरफ्तार

कोंडागांव @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के कोंडागांव में पुलिस ने नशे के अवैध कारोबार के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए 2 अंतरराज्यीय गांजा तस्करों को पकड़ा है। इनके पास से पुलिस ने तकरीबन 2 करोड़ रूपयों का गांजा बरामद किया है।

जानकारी के मुताबिक, कोंडागांव पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि एक मेटाडोर ट्रक में भारी मात्रा में गांजा लेकर तस्कर जगदलपुर से कोंडागांव की ओर आ रहे हैं। इस इनपुट के बाद कोंडागांव पुलिस ने मर्दापाल तिराहे के पास नाकेबंदी कर यहां से गुजरने वाले वाहनों की तलाशी की जाने लगी।

यह भी पढ़ें :  किसान विरोधी काले कानून वापस ले मोदी सरकार, उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने किसानों पर जबरन कानून थोपना गलत

चेकिंग पाइंट पर पुलिस ने जगदलपुर की ओर से आ रहे सफेद रंग के एक मेटाडोर को रोका। इस गाड़ी में नारियलों को तिरपाल से ढंककर लाया जा रहा था। पुलिस ने वाहन की तलाशी ली तो नारियलों के बीच में प्लास्टिक की बोरियों में भारी मात्रा में गांजे की खेप देख पुलिसकर्मी भी दंग रह गए।

नारियलों के नीचे छिपाया नशे का सामान

प्लास्टिक की 38 बोरियों में कुल 1050 किलो गांजा छिपाकर तस्कर जगदलपुर से रायपुर की तरफ लेकर जा रहे थे। जिन्हें कोंडगांव में ही पुलिस ने दबोच लिया। पुलिस ने गांजे के साथ 2 तस्करों को रवि हसन (31) और राकेश कुमार (22) को गिरफ्तार किया है। इनमें से एक गांजा तस्कर दिल्ली का तो दूसरा अलीगढ़ का रहने वाला हैं।

यह भी पढ़ें :  लोहारी का काम करते देख पटवारी ने दोरला को लोहार बना दिया... भ्रम ने छीन लिया 3000 लोगों का हक !

हरियाणा पार हो रहा था गांजा

कोंडागांव एसपी दिव्यांग पटेल ने बताया कि दोनों तस्कर आंध्र प्रदेश से भारी मात्रा में गांजा लेकर छत्तीसगढ़ के रास्ते हरियाणा जा रहे थे। जिन्हें कोंडगांव में ही पकड़ लिया गया है। पुलिस के मुताबिक बरामद गांजे की अनुमानित कीमत दो करोड़ आंकी है।

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से एक एंड्रायड मोबाइल, 1500 रुपये नकद और एक एटीएम कार्ड बरामद किया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर एनडीपीएस एक्ट का मुकदमा दर्ज कर कोर्ट में पेश किया। कोर्ट के आदेश पर दोनों को न्यायिक हिरासत में भेजा गया।

यह भी पढ़ें :  इंजीनियर समेत 3 अगवा लोगों को नक्सलियों ने किया रिहा, दो दिन बाद छूटे माओवादियों के चंगुल से