जब CM भूपेश को रोककर युवक ने लगाई आवाज… ‘कका, काकी के लिए बिंदी-चूड़ी लेते जाइए’

2199

जब CM भूपेश को रोककर युवक ने लगाई आवाज… कहा- ‘कका, काकी के लिए बिंदी-चूड़ी लेते जाइए’

जगदलपुर @ खबर बस्तर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान मंगलवार को जब बड़े किलेपाल में लगे हाट बाजार में पहुँचे तो वहां चूड़ी, बिंदी की दुकान लगाने वाले बसंत राय ने आवाज लगाकर मुख्यमंत्री को रोक लिया।

बसंत ने आवाज दी… कका, काकी के लिए बिंदी-चूड़ी लेते जाइये। इतना सुनकर मुख्यमंत्री मुस्कुरा दिए और उन्होंने रुककर बसंत की दुकान से अपनी धर्मपत्नी के लिए बिंदी, मेहंदी आदि खरीदा।

यह भी पढ़ें :  अब चौंकाने लगे हैं कोरोना के बढ़ते आंकड़े ! एक ही दिन मिले 46 मरीज, संक्रमितों में फोर्स के जवान ज्यादा

बता दें कि दंतेवाड़ा में भेंट-मुलाकात के बाद सीएम भूपेश बघेल मंगलवार की दोपहर बस्तर जिले के बड़े किलेपाल पहुंचे। यहां मुख्यमंत्री बघेल का ग्रामीण मोशू पोयाम ने पारंपरिक पटका, कलगी, महुआ माला पहनाकर स्वागत किया।

मोशू पोयाम के सीएम को बताया कि सुबह उसने अपने 8 साल के बेटे पवन को बताया कि मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में जा रहा हूं। तो वह साथ चलने और सीएम के साथ फोटो लेने की जिद करने लगा। ये सुनकर मुख्यमंत्री ने पवन पोयाम से साथ फोटो खिंचवाई।

यह भी पढ़ें :  बुर्कापाल हमले के लिए नक्सलियों ने केन्द्र व राज्य सरकार को ठहराया जिम्मेदार

इससे पहले सीएम बघेल ने दंतेवाड़ा में दंतेश्वरी मंदिर में 11 किमी लंबी चुनरी मांईजी को अर्पित की। उन्होंने शक्तिपीठ में पूजा अर्चना कर प्रदेश की खुशहाली व तरक्की की कामना की।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दंतेवाड़ा में प्रेस वार्ता में कहा कि वे दंतेवाड़ा आने का मौका नहीं छोड़ते हैं। होश संभालने के बाद से वे लतागार यहां आते रहे हैं। महेंद्र कर्मा जी से मित्रता ने यहाँ के दौरे बढ़ाए। सीएम ने कहा, ‘मुझे ख़ुशी है कि दंतेवाड़ा में परिवर्तन दिख रहा है।’

यह भी पढ़ें :  शराबियों के लिए नई सुविधा, अब दुकान में भी मिलेगी शराब... ऑनलाइन बुकिंग के बाद OTP दिखा ले सकेंगे बोतल

अब दंतेवाड़ा में लोग आ-जा रहे हैं। आवागमन की सुविधा बढ़ गई है। बस्तर अब शांति की ओर लौट रहा है। बस्तर अब शांति की ओर लौट रहा है। पुलिस की पेट्रोलिंग भी बढ़ी है। एक समय में गोली धमाके की चर्चा आम थी लेकिन अब denex और दूसरी चीज़ों के लिए दंतेवाड़ा जाना जा रहा है।