CM भूपेश ने कलेक्टर से क्यों कहा- ‘इनका नाम नोट करो, इनको अगली किश्त का पैसा मत देना’

1896

CM भूपेश ने कलेक्टर से क्यों कहा- ‘इनका नाम नोट करो, इनको अगली किश्त का पैसा मत देना’

कांकेर @ खबर बस्तर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ‘भेंट मुलाकात’ कार्यक्रम के तहत कांकेर जिले के दौरे पर हैं और इस दौरान वे बेतकल्लुफ़ होकर ग्रामीणों से मिल रहे हैं।

योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही दिखने पर जहां सीएम का सख्त लहजा रहता है तो वहीं नागरिकों से बातचीत में वे मजाकिया अंदाज में भी नजर आते हैं। ऐसा ही नजारा पखांजूर में शनिवार को दिखाई दिया।

यह भी पढ़ें :  रक्षाबंधन पर बहनों को गिफ्ट में दिया 5-5 लीटर पेट्रोल... राखी नहीं बंधवाई, बहनों संग किया पौधरोपण

दरअसल, पखांजूर में आयोजित भेंट मुलाकात कार्यक्रम में जब एक हितग्राही सुशील मंडल ने मुख्यमंत्री को बताया कि उसका 1 लाख का कर्ज माफ हुआ है, राजीव गांधी किसान न्याय योजना की क़िस्त भी मिल गयी है।

इतना सुनते ही सीएम भूपेश बघेल ने पूछा, ‘इतना सब मिल गया हमारी बहू को क्या दिलाये हो।’ सुशील मंडल ने जैसे ही बताया अब तक तो कुछ नही दिला पाया।

इस पर मुख्यमंत्री ने अपने नजदीक बैठे कलेक्टर चंदन कुमार से मजाकिया अंदाज में कहा, ‘कलेक्टर साहब! जब तक ये हमारी बहू को कुछ उपहार ना दिलाए। इसे अगली क़िस्त मत जारी करियेगा।’

यह भी पढ़ें :  एक दूजे के लिए हो गए 31 जोड़े… महिला एवं बाल विकास विभाग का ब्लॉक स्तरीय आयोजन

सीएम भूपेश बघेल का इतना ही कहना था कि भेंट मुलाकात में बैठे तमाम लोग ठहाके लगाकर हंस पड़े। मुख्यमंत्री के इस मजाकिया अंदाज के सभी लोग कायल हो गए।