युवक की डंडे से पीट-पीट कर हत्या… विधवा बहू से अवैध संबंध का था शक, अधेड़ ने कर दिया कत्ल

1584

युवक की डंडे से पीट-पीट कर हत्या… विधवा बहू से अवैध संबंध का था शक, अधेड़ ने कर दिया कत्ल

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में पारिवारिक विवाद के चलते एक युवक की डंडे से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। हत्या के पीछे नाजायज संबंध वजह बताई जा रही है।

जानकारी के मुताबिक, यह पूरा मामला गीदम थानाक्षेत्र के घोटपाल गांव का है। भट्टीपारा निवासी सायबो लेकामी ने गांव के ही युवक सुखराम की लाठी से पीटकर हत्या कर दी। दोनों के बीच अवैध संबंधों को लेकर विवाद चल रहा था।

यह भी पढ़ें :  सेक्स रैकेट में शामिल 2 युवतियां निकली कोरोना पाॅजिटिव... TI और SI समेत पुलिसकर्मी क्वारेंटाइन, रिलेशन बनाने वालों की तलाश जारी

दरअसल, सायबो लेकामी को शक था​ कि उसकी विधवा बहू और सुखराम के बीच नाजायज संबंध चल रहा है। इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि सायबो ने डंडे से पीट पीटकर सुखराम को अधमरा कर दिया। जब वह बेहोश हो गया तो वह मौके से भाग गया।

वारदात के बाद डंडे को छिपाया

सुखराम की पिटाई करने के बाद सायबो वहां से भाग खड़ा हुआ। आरोपी ने जिस डंडे से युवक को पीटा था उसे घर की बाड़ी में छिपाकर रख दिया था। हत्या के बाद युवक के परिजनों ने पुलिस को मामले की जानकारी दी।

यह भी पढ़ें :  दंतेवाड़ा में 24 घंटे के भीतर दूसरा सड़क हादसा... कटेकल्याण रोड़ में यात्री बस पलटी, 15 यात्री जख्मी

इधर, गीदम थाने में घटना की एफआईआर दर्ज होते ही पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में उसने अपना जुर्म कबूल लिया। जिस डंडे से पिटाई की गई पुलिस ने उसे भी बरामद कर लिया है। आरोपी को जेल भेजा गया है।

क्या है पूरा मामला

पुलिस के मुताबिक, आरोपी सायबो के छोटे भाई की डेढ़ साल पहले मौत हो गई थी, लेकिन विधवा बहू ने हाल में ही एक नवजात शिशु को जन्म दिया। अपने मृत छोटे भाई की पत्नी के साथ सुखराम के अवैध संबंधों का शक जताते सायबो अक्सर झगड़ा किया करता था।

यह भी पढ़ें :  DD न्यूज की टीम पर हमले में शामिल 2 लाख के इनामी नक्सली ने किया सरेंडर, कलेक्टर-एसपी के समक्ष हिंसा का मार्ग छोड़ने का लिया प्रण

घटना के वक्त भी नवजात शिशु के जन्म और अवैध संबंध की बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ। आरोपी सायबो ने लात घूंसे और डंडे से सुखराम को इतनी बेहरहमी से मारा की उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया।