महंगाई मार गई, हजारों लोग जुटे और निकाली रैली… रेत खदानों को पंचायतों के हवाले करने और गोलीकाण्ड की जांच की भी मांग दोहराई

66

महंगाई मार गई, हजारों लोग जुटे और निकाली रैली… रेत खदानों को पंचायतों के हवाले करने और गोलीकाण्ड की जांच की भी मांग दोहराई

पंकज दाउद @ बीजापुर। महंगाई, सिलगेर गोलीकाण्ड की जांच और रेत खदानों को पंचायतों के सुपुर्द करने समेत आठ सूत्री मांगों को लेकर शनिवार को उसूर ब्लाॅक के आवापल्ली एवं भोपालपटनम में हजारों आदिवासियों ने कोविड नियमों को ताक पर रख जंगी रैली निकाली।

– आवापल्ली में निकाली गई रैली

 

ग्रामीणों ने सिलगेर काण्ड में दोषियों को सजा देने, महंगाई कम करने, रेत खदानों का ठेका निरस्त कर इन्हें पंचायतों को देने, आनलाइन पढ़ाई बंद कर स्कूलों को खोलने, हर गांव में उप स्वास्थ्य केन्द्रों की स्थापना, लोकल संसाधनों को विदेश भेजना बंद करने आदि मांगें की हैं।

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में फिर प्रशासनिक सर्जरी, 14 डिप्टी कलेक्टरों का जारी हुआ ट्रांसफर लिस्ट...यहां देखिए पूरी सूची

आवापल्ली में 19 पंचायतों के 4 हजार से अधिक लोग आए थे। यहां सामुदायिक भवन से तहसील कार्यालय तक रैली निकाली गई और राज्यपाल के नाम तहसीलदार शिवनाथ बघेल को ज्ञापन सौंपा गया।

– भोपालपटनम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा गया

रैली में प्रमुख रूप से जनपद अध्यक्ष अनिता तेलम, उपाध्यक्ष बीरा बोयना, पूर्व जिला पंचायत सदस्य रत्ना सोढ़ी, सरपंच मुन्ना कुरसम, सुकलू पूनेम, नागेश अंगनपल्ली, नोप्पो पोजे, मीनाक्षी नल्ली, प्रवीण यालम, नारायण मोड़ियम, कोरैया कारम, जनपद सदस्य एवं अन्य जनप्रतिनिधि शामिल थे।

यह भी पढ़ें :  छह घंटे काम की चालीस रूपए मजदूरी, मुसीबत में रसोईए... कलेक्टोरेट दर पर भुगतान का चुनावी वादा झूठा निकला

Read More:

 

भोपालपटनम में भी इन्हीं मांगों को ले रैली निकाली गई। यहां वनोपज जांच नाके से तहसील कार्यालय तक रैली निकाली गई। यहां राज्यपाल के नाम ज्ञापन एसडीएम डाॅ हेमेन्द्र भूआर्य को सौंपा गया। आंदोलनकारियों ने पहुंचविहीन क्षेत्रों में खाद्यान्न का भण्डारण बारिश से पहले करने की मांग की।

यह भी पढ़ें :  परिवार में निकले थे कोविड मरीज, प्रशासन ने 10 दुकानों को किया सील
– भोपालपटनम में रैली

रैली में 35 पंचायतों से करीब एक हजार लोग आए थे। इसमें सरपंच संघ के अध्यक्ष अशोक मढ़े, टिंगे चिन्नाबाई, मिच्चा समैया, सुनील उद्दे, रमेश पामभोई, जिला पंचायत सदस्य बसंत राव ताटी, चापा सरिता, सुरेन्द्र चापा, जनपद अध्यक्ष निर्मला मरपल्ली, उपाध्यक्ष मिच्चा मुतैया, अश्विनी यालम, सुनील गुरला, नागैया, मीना वासम, अनिता यालम, कमला पारेट, संतोष मेकल, सरस्वती कोरम के अलावा सरपंच एवं अन्य जनप्रतिनिधि शामिल थे।