कुपोषण से जंग में मुनगा है मददगार… विधायक मण्डावी बोले, लगाने के साथ बचाने की भी है दरकार

36

#कुपोषण से #जंग में #मुनगा है #मददगार… विधायक #मण्डावी बोले, #लगाने के साथ #बचाने की #भी है #दरकार

पंकज दाऊद @ बीजापुर। बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं स्थानीय विधायक विक्रम शाह मण्डावी ने कहा है कि इस साल वन महोत्सव के दौरान मुनगा के रोपण पर इसलिए फोकस किया गया क्योंकि ये कुपोषण से जंग में मददगार है। उन्होंने इसके रोपण के साथ इसे बचाने पर पर भी बल दिया।

यह भी पढ़ें :  सरकार पर दबाव डालने लगे आदिवासी, ब्लाॅक मुख्यालय में दिया गया एक दिनी धरना

 

 

वे यहां मुनगा पौधरोपण महाअभियान के दौरान बालिका पोटा केबिन परिसर में मुख्य अतिथि की आसंदी से संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बाड़ी में मुनगा समेत दीगर फलदार पौधे लगाने की परंपरा रही है। मुनगा छाल, पत्ती एवं फल तीनों उपयोगी हैं।

विधायक मण्डावी ने कहा कि सीएम भूपेश बघेल की सोच के चलते इस बरस मुनगा रोपण का महाअभियान चलाया जा रहा है। पौधारोपण की जिम्मेदारी सिर्फ वन विभाग या उद्यानिकी विभाग की नहीं है। इसमें सभी विभागों और लोगों को आगे आना होगा। ये सामूहिक जिम्मेदारी है। सभी को मिलकर टीम भावना से काम करना होगा।

यह भी पढ़ें :  नक्सलियों ने ढहाया था स्कूल, सरेंडर कर फिर से बनाया... 7 बाद खुला स्कूल तो बच्चों का उत्साह बढ़ाने पहुंचे कलेक्टर

पाॅवडर 700 रूपए किलो

इस मौके पर कलेक्टर रिेतेश अग्रवाल ने कहा कि जिले में कुपोषित बच्चों के आंकड़े चौंकाने वाले हैं। ऐसे में मुनगा एक कारगर आहार है। इसकी पत्ती में 25 फीसद आयरन होता है और 9 प्रकार के मानव शरीर के लिए उपयोगी अमीनो अम्ल होते हैं।

मुनगा में विटामिन ए, ई और के भी होते हैं। स्वसहायता समूहों को भविश्य में इसकी पत्ती का पाॅवडर बनाने का काम दिया जाएगा। इसका पाॅवडर खुले बाजार में सात सौ रूपए किलो में मिलता है। ये एक आजीविका का साधन भी है।

यह भी पढ़ें :  बचेली में फूटा कोरोना बम: CISF के 8 और जवान निकले पॉजिटिव, अब तक 11 जवान हो चुके हैं संक्रमित