फागुन मंड़ई में कोरोना का ग्रहण, होली से पहले आमंत्रित देवी-देवताओं की हुई विदाई

74

फागुन मंड़ई में कोरोना का ग्रहण, होली से पहले आमंत्रित देवी-देवताओं की हुई विदाई

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। कोरोना संक्रमण काल में दंतेवाड़ा में चल रहे ऐतिहासिक फागुन मंड़ई में 800 साल पुरानी परंपरा का निर्वाह नहीं हो सका। होली से पहले ही शुक्रवार को आमंत्रित देवी-देवताओं की विदाई की गई। ऐसा कोरोना संक्रमण से बचाव के चलते किया गया।

बता दें कि विश्व प्रसिद्ध फागुन मंड़ई का आयोजन 20 मार्च से 1 अप्रैल तक किया गया है। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मंड़ई में आमंत्रित देवी-देवताओं के साथ ही पुजारियों व सहायकों को 1 अप्रैल को विदाई दिया जाना था। लेकिन कोविड-19 वैश्विक महामारी के बढ़ते संक्रमण के कारण आम जनता की सुरक्षा की दृष्टि से 26 मार्च को ही विदाई की गई।

यह भी पढ़ें :  27 माओवादियों ने एक साथ किया सरेंडर, राज्य स्थापना दिवस पर नक्सलवाद से तोड़ा नाता

इस दौरान विधायक देवती महेन्द्र कर्मा, नगर पालिका अध्यक्ष पायल गुप्ता एवं एसडीएम अबिनाश मिश्रा की मौजूदगी में देवी-देवताओं को ससम्मान विदाई दी गई। इधर, कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए केवल दन्तेश्वरी मंदिर के पुजारियों, सहायकों एवं सेवादारों के द्वारा फागुन मंड़ई के परम्परागत रस्मों को विधिवत सम्पन्न किया जावेगा।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…

खबर बस्तर के WhatsApp ग्रुप में जुड़ने के लिए इस Link को क्लिक कीजिए…

यह भी पढ़ें :  नक्सलियों के खिलाफ तेज होगा ऑपरेशन, ADG अशोक जुनेजा और IG सुंदरराज ने किया पामेड़ का दौरा... पुलिस व CRPF अफसरों के साथ की समीक्षा बैठक