सतनामी समाज ने धूमधाम से मनाई घासीदास जयंती

78

सतनामी समाज ने धूमधाम से मनाई घासीदास जयंती

के शंकर @ सुकमा। जात-पात से ऊपर उठकर प्रेम और सद्भावना का संदेश देने वाले संत गुरु घासीदास बाबा की 264 वीं जयंती को जिले में धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर सुबह से लेकर देर शाम तक विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं।

सतनामी समाज ने महान संत परम् पूज्य बाबा गुरु घासीदास जी की 264वी जयंती समारोह के उपलक्ष्य में सुकमा नगर के बस स्टैंड के सामने समुदायिक भवन में सुबह 10.00 बजे प्रतिवर्षनुसार इस वर्ष भी सतनामी समाज द्वारा भव्य कार्यक्रम का आयोजन रखा गया था, जिसमे भजन के साथ भी भंडारा हुआ।

यह भी पढ़ें :  IAS ट्रांसफर: 3 जिलों के बदले गए कलेक्टर, 9 IAS समेत 10 अफसरों का तबादला... देखिए पूरी ट्रांसफर लिस्ट

Read More:

 

दीप प्रज्वलित कर गुरु गद्दी पुजा, अनुष्ठान एवं जैत खाम में पालो झण्डा चढ़ना एवं प्रसाद वितरण, भांडारा का आयोजन किया गया है सतनामी समाज सुकमा ईकाई के द्वारा आयोजन किया गया इस कार्यक्रम में समाज के अध्यक्ष छोटे लाल पाटले, कृष्ण कांत भारद्वाज जज, अपर कलेक्टर ओपी कोसरिया, SDM नभ एल स्माइल, डीएसपी श्यामलाल मधुकर डा. पुरेना, समेत गणमान्य नागरिक समस्त सतनामी समाज सुकमा उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें :  आखिर क्या दवा दुकानें भी बंद हो जाएंगी..? विक्रेताओं ने रखी है सरकार से ये मांग!

कार्यक्रम में सारे समाज के लोग सफेद वस्त्र धारण कर आये एक रुपता एवं समांता का परिचय देते हुए बाबा का जयंती मनाया गया। शासन के गाईड लाईन अनुसार कोरोना संक्रमण Covid-19 को ध्यान में रखते हुए मास्क एवम सेनेटाइजर उपयोग अनिवार्य किया गया था।

समाज के अध्यक्ष छोटे लाल पाटले ने बताया की बाबा जी की जयंती के मौके पर उनके मानव-मानव एक सामान व नशामुक्ति समेत 7 सिद्धांत और 42 वाणी को समाज के सभी लोग आत्मसात करते हैं और बाबा के बताये मूल्यों व जीवन दर्शन पर चलने का प्रण लेते हैं। 

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…
यह भी पढ़ें :  कोरोना से जंग: जिले में गुटखा, तम्बाखू एवं गुड़ाखू पर लगा प्रतिबंध, उल्लंघन करने पर होगी कार्रवाई


खबर बस्तर के WhatsApp ग्रुप में जुड़ने के लिए इस Link को क्लिक कीजिए…