‘तलाश-ए-नौबहार’ के ग्रैण्ड फिनाले में दंतेवाड़ा के बच्चों का दिखेगा जलवा, जिला स्तरीय ऑडिशन में होनहारों ने दिखया दम

770
3 children of Dantewada will show their skills in the grand finale of Talaash-e-Naubahar

‘तलाश-ए-नौबहार’ के ग्रैण्ड फिनाले में दंतेवाड़ा के बच्चों का दिखेगा जलवा… जिला स्तरीय ऑडिशन में चयनित हुए बच्चे

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ उर्दू अकादमी द्वारा आयोजित ‘तलाश-ए-नौबहार’ कार्यक्रम का ज़िला स्तरीय ऑडिशन नगर के मुस्लिम जमातखाना में संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में चयनित बच्चे राज्य स्तरीय आयोजन में जिले का प्रतिनिधित्व करेंगे।

3 children of Dantewada will show their skills in the grand finale of Talaash-e-Naubahar
– अपनी प्रस्तुति देते बच्चे

गौरतलब है कि छग उर्दू अकादमी के बैनर तले आयोजित इस कार्यक्रम के जरिए छत्तीसगढ़ के उत्कृष्ट युवा शायरों व नातगो की तलाश की जा रही है। इसी सिलसिले में दंतेवाड़ा में मंगलवार को संपन्न हुए जिला स्तरीय ऑडिशन में दंतेवाड़ा के अलावा गीदम, बचेली व किरन्दुल के होनहार बच्चों ने शिरकत की।

यह भी पढ़ें :  प्रेशर IED की चपेट में आने से DRG का जवान जख्मी...सर्चिंग के दौरान हुआ हादसा, अस्पताल में चल रहा इलाज

कार्यक्रम की शुरूआत में मुस्लिम जमात के सदर हाजी मोहम्मद कासिम ने उपस्थित अतिथियों का पुष्पाहार से स्वागत किया और ‘तलाश-ए-नौबहार’ कार्यक्रम के बारे में संक्षिप्त रूप से जानकारी दी। इस कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में अंचल के विख्यात साहित्यकार सिकंदर खान उर्फ ‘दादा जोकाल’ मौजूद रहे।

3 children of Dantewada will show their skills in the grand finale of Talaash-e-Naubahar
– कार्यक्रम में मौजूद अतिथिगण

‘तलाश-ए-नौबहार’ कार्यक्रम में जिले के विभिन्न स्थानों से पहुंचे करीब डेढ़ दर्जन बच्चों ने नातिया कलाम और शेरो-शायरी के जरिये अपनी हुनर का जौहर दिखाया। इनमें से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले 3 बच्चों का चयन राज्य स्तरीय आयोजन के लिए किया गया। ये बच्चे राज्य स्तरीय ग्रेंड फिनाले में अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे।

यह भी पढ़ें :  कांकेर में नक्सलियों ने किया IED ब्लास्ट, SSB का जवान घायल... विस्फोट के बाद माओवादियों ने की फायरिंग

इन बच्चों का हुआ चयन

कार्यक्रम में अव्वल नंबर पर किरन्दुल के जुनैद रज़ा (14 वर्ष) रहे। वहीं दंतेवाड़ा की शिफत (10 वर्ष) व रुज़ैना (10 वर्ष) ने द्वितीय और दंतेवाड़ा की ही नुजहत फातिमा (10 वर्ष) ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। सभी चयनित बच्चों व अन्य प्रतिभागियों को अतिथियों द्वारा सम्मानित किया गया।

3 children of Dantewada will show their skills in the grand finale of Talaash-e-Naubahar
– बेहतर प्रदर्शन करने वाले बच्चों को पुरस्कृत किया गया

कार्यक्रम में बतौर जज अल्लामा मौलाना हाफिज ज़ैनुद्दीन साहब बालेसर उड़ीसा, मौलाना मंसूर आलम साहब गीदम, मौलाना कारी शम्सुर्रहमान साहब दंतेवाड़ा, हाफिज़ गयासुद्दीन साहब दंतेवाड़ा और इस्माईल रज़ा किरंदुल खास तौर पर मौजूद थे।

यह भी पढ़ें :  सड़क खोद नक्सलियों ने मचाई थी तबाही, 12 साल बाद जवानों की मदद से शुरू हुआ आवागमन

कार्यक्रम के सफल संचालन में रहमतुल्लाह खान खजाँची, मोहम्मद आसिफ, मोहम्मद फिरोज, मोहम्मद कदीर, मो नसीर समेत अन्य सहयोगियों का विशेष योगदान रहा। बच्चों को पुरस्कार लक्की टाईल्स एंड सैनेटरी दंतेवाड़ा, आरजे इलेक्ट्रिक्स दंतेवाड़ा व मोहम्मद आरिफ वॉच हाउस दंतेवाड़ा की ओर से प्रदत्त किया गया।