दंतेवाड़ा उपचुनाव में फिर एक ऑडियो ने मचाई खलबली… JCCJ प्रत्याशी सुजीत कर्मा ने कांग्रेस पर लगाया प्रलोभन देने का आरोप

43
An audio surfaced again in Dantewada by-election

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। दंतेवाड़ा उपचुनाव में एक और ऑडियो सामने आया है। इस ऑडियो ने कांग्रेस के लिए नई मुसीबत खड़ी कर दी है। दरअसल, जोगी कांग्रेस प्रत्याशी सुजीत कर्मा ने आरोप लगाया है की उन्हें प्रलोभन देकर नाम वापसी के लिए दबाव डाला जा रहा है।

Read More :  ओपी चौधरी का पलटवार, PCC चीफ मोहन मरकाम से पूछे 7 सवाल… दी इस बात की चुनौती !

पत्रकारों से चर्चा में सुजीत कर्मा ने बताया की नामांकन दाखिले के बाद से कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं द्वारा उन पर लगातार दबाव बनाया जा रहा है। सुजीत ने नाम वापसी के लिए हर तरीके से दबाव बनाने का आरोप कांग्रेस पर लगाया है।

यह भी पढ़ें :  सचिन तेंदुलकर ने दंतेवाड़ा के इस दिव्‍यांग बच्चे के जज़्बे को किया सलाम, नए साल पर वीडियो ट्वीट कर लिखा- इससे प्रेरणा लें!

Read More : मेरी कश्ती डूबी वहां, जहां पानी कम था..!

An audio surfaced again in Dantewada by-election
– प्रेसवार्ता में मौजूद छजकां प्रत्याशी व अन्य.

Read More :  दंतेवाड़ा उपचुनाव से पहले CPI के खेमे में सेंध, पूर्व सरपंच सहित 25 कार्यकर्ता कांग्रेस में हुए शामिल

सुजीत के मुताबिक पीसीसी चीफ मोहन मरकाम की ओर से अर्शिल कुरैशी नामक व्यक्ति ने उन पर पैसे, पंचायत चुनाव में टिकट और नौकरी का लालच दिया। सुजीत ने बताया की अर्शिल ने मोहन मरकाम से उनकी बात भी कराई। वहीं कांग्रेस कार्यकर्ता तरुण देवांगन ने भी फोन कर पद व पैसे का प्रलोभन दिया। सुजीत ने इस मामले में ऑडियो भी जारी किया है।

यह भी पढ़ें :  जब कलेक्टर दीपक सोनी ने नापी सड़क... बचेली-किरंदुल में कई किमी पैदल चलकर समस्या से हुए रूबरू‚ गौरवपथ में देरी पर ठेकेदार को लगाई फटकार

इधर, कांग्रेस ने इन आरोपों से अपने आप को अलग कर लिया है। पीसीसी चीफ मोहन मरकाम का कहना है कि जोगी कांग्रेस प्रत्याशी मीडिया की सुर्खियों में बने रहने के लिए इस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं। उनके आरोपों में कोई दम नहीं है।

Read More :  दंतेवाड़ा उपचुनाव: चप्पे-चप्पे पर तैनात रहेंगे जवान… अर्धसैनिक बलों का छत्तीसगढ़ पहुंचना शुरू, जानिए कितने जवानों की होगी तैनाती !

कांग्रेस प्रदेशध्यक्ष मरकाम के मुताबिक वे अर्शिल कुरैशी को जानते तक नहीं हैं। हालांकि, उन्होंने स्वीकार किया कि तरुण देवांगन कांग्रेस कार्यकर्ता हैं। उनका कहना है कि यदि छजकां प्रत्याशी के आरोपों में सच्चाई है तो उन्हें पुलिस व चुनाव आयोग से इसकी शिकायत करनी चाहिए। लेकिन ऐसा नहीं कर वे केवल मीडिया में बने रहने के लिए बयान बाजी कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें :  सुकमा में कोरोना ब्लास्ट... कोबरा बटालियन के 38 जवान निकले पॉजिटिव, कैम्प में किया गया क्वारंटाइन

Read More : बाढ़ प्रभावितों का हालचाल जानने पहुंचे थे विधायक, पर खुद फंस गए बाढ़ में ! पढ़िए ये खबर…

 


ख़बर बस्तर के WhatsApp ग्रुप में जुड़ने के लिए इस Link को क्लिक कीजिए….