छग में अघोषित आपातकाल, भाजपा करेगी जेल भरो आंदोलन… भूपेश सरकार जनता की आवाज को दबाने लगी

127

छग में अघोषित आपातकाल, भाजपा करेगी जेल भरो आंदोलन… भूपेश सरकार जनता की आवाज को दबाने लगी

पंकज दाऊद @ बीजापुर। भाजपा ने आरोप लगाया है कि छत्तीसगढ़ में भूपेश सरकार किसी भी आयोजन के लिए 19 शर्तों के साथ अनुमति देने की बात कह रही है और इन शर्तों का कड़ाई से पालन करना मुश्किल है। दरअसल, भूपेश सरकार ने जनता की आवाज को दबाने ये तरीका अख्तियार किया है।

यहां पत्रकारों से चर्चा करते भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास राव मुदलियार, पूर्व जिलाध्यक्ष जी वेंकट एवं जिला महामंत्री सत्येन्द्र ठाकुर ने आरोप लगाया कि आज हर तबका आंदोलित है। वन कर्मी, स्वास्थ्य कर्मी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मनरेगा कर्मी, बेरोजगार एवं आम जनता से झूठे वादे कर कांग्रेस ने सत्ता हथिया ली।

यह भी पढ़ें :  स्टूडेंट व यूथ फेडरेशन के नेतृत्व में युवाओं ने किया पैदल मार्च, भूपेश सरकार पर लगाया बेरोजगारों से छलावा करने का आरोप
– पत्रवार्ता लेते भाजपा नेता।

अब सार्वजनिक, निजी कार्यक्रमों, धार्मिक, राजनीतिक एवं अन्य कार्यक्रमों पर एक तरह से तुगलगी फरमान जारी कर प्रतिबंध लगाने की जुगत में भूपेश सरकार है। ये सरकार चाहती है कि उसके खिलाफ कोई आवाज बुलंद ना कर सके। इस वजह से ये आंदोलनों को भी रोकना चाहती है।

बाबा साहेब ने संविधान में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता भारत के हरेक नागरिक को दी। अब एक तरह से ये आजादी भी राज्य की जनता से भूपेष सरकार छीन रही है। लोकतांत्रिक अधिकारों की नृृशंस हत्या की जा रही है।

यह भी पढ़ें :  बाजार में अब मशरूम खरीदने की लगी होड़, किसानों को लुभाने लगा है ये जादुई कारोबार

भाजपा डाॅ भीमराव अंबेडकर की जयंती को सामाजिक न्याय पखवाड़ा के तौर पर मना रही है, तब कांग्रेस सरकार लोकतांत्रिक अधिकारों के हनन पर उतारू है। आयोजक 19 शर्तो का पालन नहीं करेगा, तो उसे जेल हो जाएगी। सबसे आपत्तिजनक एवं असंवैधानिक बिंदू आयोजकों से हलफनामा लिया जाना है।

अब भूपेश सरकार के हिसाब से कांग्रेस को ही आयोजन का अधिकार होगा। इस आदेश की आड़ में कांग्रेस टारगेटेड हमले करेगी। भाजपा नेताओं ने कहा कि यदि ये काला आदेश सरकार वापस नहीं लेगी, तो भाजपा 16 मई को जेल भरो आंदोलन करेगी।

यह भी पढ़ें :  कलेक्टर-एसपी के कॉलर पकड़ने की जरूरत नहीं, जरूरत है जन समस्याओं को लेकर संघर्ष की- कुंजाम