कोविड सेंटर से भागा संक्रमित मरीज, ट्रेन के सामने कूदकर दे दी जान… खुदकुशी से पहले मां के नाम WhatsApp मैसेज में लिखा…

78
Corona positive patient commits suicide by jumping in front of train

कोविड सेंटर से भागा संक्रमित मरीज, ट्रेन के सामने कूदकर दे दी जान… खुदकुशी से पहले मां के नाम WhatsApp मैसेज में लिखा…

रायपुर @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के जांजगीर जिले में एक दर्दनाक घटना सामने आई है। यहां एक कोरोना संक्रमित मरीज ने आत्महत्या कर ली है। महज 25 साल की उम्र में युवक ने ट्रेन के सामने कूदकर अपनी जान दे दी।

जानकारी के मुताबिक, मृतक जांजगीर के कुलीपोटा गांव का रहने वाला था। वह बिलासपुर की एक सीमेंट फैक्ट्री में सुपरवाइजर का काम करता था। गांव लौटने के बाद 15 सितबर को उसने एहतियातन कोरोना की जांच कराई, जिसमें वह संक्रमित पाया गया। इसके बाद उसे कोविड सेंटर में दाखिल कराया गया।

Read More: पुलिस लाइन में जवान की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में निकला कोरोना… जगदलपुर जाते वक्त रास्ते में हुई मौत

यह भी पढ़ें :  कोरोना ब्रेकिंग: छत्तीसगढ़ में आज फिर मिले 32 पॉजिटिव मरीज, इस जिले में सामने आए आधे मामले...राजधानी में भी बढ़ रहा कोरोना का ग्राफ

इसी बीच गुरुवार की सुबह करीब 4 बजे कोरोना संक्रमित युवक अचानक कोविड सेंटर से भाग गया। यहां से कुछ ही दूरी पर ट्रेन के सामने कूदकर इस युवक ने अपनी जान दे दी। खोखसा रेलवे फाटक के पास युवक की टुकड़ों में बंटी लाश मिली। घटना के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मरने से पहले किया था फोन

बताया जा रहा है कि आत्महत्या करने से पहले युवक ने अपनी बहन को फोन किया था और कहा कि अब वो जीना नहीं चाहता और मरने जा रहा है। यह सुनकर बहन हड़बड़ा गई। उसने फोन पर भाई को समझाने की बहुत कोशिश की, लेकिन तब तक युवक मालगाड़ी के आगे कूद चुका था।

Read More: इस जिले के SP और एडिशनल SP को हुआ कोरोना… एक ही दिन दोनों IPS अफसरों की रिपोर्ट आई पॉजिटिव

यह भी पढ़ें :  बस्तर में कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत, सांस लेने में तकलीफ की शिकायत पर मेडिकल कालेज में कराया गया था भर्ती

मृत युवक के घर में पत्नी और मासूम बच्चे के अलावा बुजुर्ग माता-पिता रहते हैं। जिस जगह पर युवक ने आत्महत्या की, वहां से उसका घर महज दो किमी की दूरी पर है। घटना की जानकारी मिलने पर घरवाले भागकर पटरियों के पास पहुंचे और वहां का नजारा देखकर उनके होश उड़ गए।

कोविड सेंटर में रहने से डरा हुआ था युवक

बताया गया है कि कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने से बाद से युवक घबराया हुआ था। वह कोविड अस्पताल जाने के बजाय घर पर ही होम आइसोलेशन में रहना चाहता था। इसी बीच उसे कोविड सेंटर में भर्ती करा दिया गया। यह बात भी सामने आ रही है कि कोविड सेंटर की व्यवस्था उसे ठीक नहीं लगी।

Corona positive patient commits suicide by jumping in front of train

कोविड सेंटर में भर्ती होने के बाद युवक ने परिवार के लोगों को फोन किया और होम आइसोलेशन के लिए आवेदन करने को कहा। इसके बाद बुधवार को परिजन इसी दौड़-भाग में लगे रहे, लेकिन शाम तक इसकी अनुमति नहीं मिल सकी।

यह भी पढ़ें :  ड्राइवर को झपकी आई और बस से जा टकराई पिकअप, सड़क हादसे में 10 लोग घायल

Read More: कोरोना के नाम पर किडनी निकाले जाने की अफवाह ! आदिवासियों ने निकाली रैली… CMHO और डाॅक्टरों को बदलने की मांग

इधर, गुरुवार की सुबह घरवालों को युवक की आत्महत्या की खबर मिली। दरअसल, रात भर में युवक ने अपनी जान देने की ठान ली और सुबह वह कोविड सेंटर से भाग गया। जाने से पहले उसने मां के नाम एक वॉट्सएप मैसेज छोड़ा, जिसमें लिखा था- ‘मम्मी, मैं बेटा होने का फर्ज नहीं निभा सका।’

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…