बाढ़ पीड़ितों के पास राहत सामग्री लेकर पहुंचे पूर्व वन मंत्री महेश गागड़ा… बोले- हर परिवार को मिले 5 लाख का मुआवजा

20
Former forest minister Mahesh Gagda arrived with relief material to flood victims

बाढ़ पीड़ितों के पास राहत सामग्री लेकर पहुंचे पूर्व वन मंत्री महेश गागड़ा… बोले— हर परिवार को मिले 5 लाख का मुआवजा

पंकज दाऊद @ बीजापुर। जिले में बाढ़ की स्थिति का पूर्व वन मंत्री महेश गागड़ा ने ना केवल जायजा लिया बल्कि वे खुद प्रभावितों के पास फौरी राहत लेकर पहुंचे। महेश गागड़ा ने भूपेश सरकार पर प्रभावितों को राहत पहुंचाने में विलंब का आरोप लगाते कहा कि हर पीड़ित परिवार को कम से कम पांच-पांच लाख का मुआवजा फौरन दिया जाना चाहिए।

पूर्व वन मंत्री ने 17 से 20 अगस्त तक जिले के कई गांवों का दौरा किया और लोगों से उनका दुख-दर्द जाना। वे मिंगाचल में राहत शिविर गए और वहां लोगों से मुलाकात की। बच्चों को कपड़े, महिलाओं को साड़ी एवं पुरूषों को लुंगी, कंबल और शॉल दी। उन्होंने शिविरार्थियों को नाश्ता भी दिया।

यह भी पढ़ें :  बाढ़ में फंसा था DRG जवान का शव, CRPF जवानों ने कंधा देकर नदी पार करवाया

Read More:

 

महेश गागड़ा ने तुमला एवं कोमला राहत शिविर का दौरा किया और ग्रामीणों को जरूरी सामान वितरित किया। उन्होंने भोपालपटनम एवं मद्देड़ इलाके में बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात कर फौरी राहत दी। मद्देड़ के नयापारा में वे नक्का नारायण के घर गए। उनका मकान जमींदोज हो गया है।

यह भी पढ़ें :  नववर्ष पर 1008 दीपों से जगमगाया माँ दंतेश्वरी का दरबार, दीप प्रज्वलित कर महिलाओं ने मांगा खुशहाली का आशीर्वाद

Former forest minister Mahesh Gagda arrived with relief material to flood victims

बाढ़ ने नक्का नारायण का आशियाना छीन लिया है। उनके रहने की जगह नहीं है। वह बीमार हैं और उनका पूरा शरीर कांपता है। पूर्व वन मंत्री ने लाॅक डाउन के बाद उनका इलाज रायपुर के हाॅस्पिटल में करवाने की बात कही।

सोनू सूद की पहल के बाद सरकार ने ली सुध

वन मंत्री ने आरोप लगाया कि एक छात्रा को मदद की फिल्म स्टार सोनू सूद की पेशकश के बाद भूपेश सरकार हरकत में आई और एक लाख नौ हजार रूपए की सहायता राशि दी। उन्होंनेे कहा कि सभी प्रभावितों को 5-5 लाख का मुआवजा दिया जाना चाहिए क्योंकि चुनाव से पहले पीसीसी अध्यक्ष रहते भूपेश बघेल ने ही कांग्रेस की सरकार बनने पर आपदा पीड़ितों को शत प्रतिशत मुआवजा का वादा किया था।

यह भी पढ़ें :  ओमिक्रोन को लेकर प्रशासन अलर्ट, वैक्सीनेशन का जायजा लेने चिंतलनार पहुंचे SDM और जनपद CEO... कहा- सभी पंचायतों में पूर्ण हो टीकाकरण

Read More:

 

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…