15 अप्रैल के बाद बच्चों का स्कूल जाना बंद ! शिक्षा विभाग ने जारी किया आदेश

5151

15 अप्रैल के बाद बच्चों का स्कूल जाना बंद ! शिक्षा विभाग ने जारी किया आदेश, शिक्षकों के लिए ये है निर्देश !

रायपुर @ खबर बस्तर। आगामी 15 अप्रैल के बाद पहली से लेकर कक्षा आठवीं तक के बच्चों का स्कूल जाना अनिवार्य नहीं होगा। हालांकि, शिक्षकों को स्कूल में अपनी उपस्थिति अनिवार्य रूप से देनी होगी। 

प्रदेश में गर्मी के भीषण प्रकोप को देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा इस बाबत आदेश जारी किया गया है। लोक शिक्षण संचालनालय ने समस्त संभागीय संयुक्त संचालकों एवं जिला शिक्षा अधिकारियों को पत्र जारी कर आवश्यक निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में फिर बारिश की संभावना... 22 से 24 जनवरी तक कई स्थानों पर वर्षा होने के आसार, आकाशीय बिजली गिरने की भी आशंका... मौसम विभाग ने कहा !

शासन द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि 15 अप्रैल के बाद पालक चाहें तो अपने बच्चों को स्कूल भेज सकते हैं। विद्यार्थियों का स्कूल आना जरुरी नहीं है। मगर इस अवधि में शिक्षकों की उपस्थिति अनिवार्य होगी। शासन ने यह आदेश कक्षा पहली से 8 वीं तक के विद्यार्थियों के लिए जारी किया है।

बता दें कि कोरोना काल में हुए पढ़ाई के नुकसान के मद्देनजर 15 मई तक स्कूल लगाने का फैसला राज्य सरकार ने लिया है, लेकिन जिस तरह से गर्मी बढ़ रही है, संभवतः उसे देखते हुए शासन ने नया आदेश जारी किया है। 

यह भी पढ़ें :  लॉकडाउन से पहले बस्तर में फूटा कोरोना बम... एक दिन में मिले 73 संक्रमित मरीज, सुकमा में 36 पॉजिटिव केस सामने आए... जगदलपुर, कांकेर, बीजापुर, कोंडागांव में भी बढ़ा कोरोना का ग्राफ

जारी निर्देशानुसार 15 अप्रैल के बाद से बच्चों का स्कूल आना स्वैच्छिक होगा, पालक चाहे तो अपने पाल्य को स्कूल भेज सकता है। अर्थात बच्चों का स्कूल आना अनिवार्य नहीं होगा। वही शिक्षकों की उपस्थिति अनिवार्य होगी।