8 लाख के इनामी नक्सली कट्टी मोहन राव की हार्ट अटैक से मौत… नक्सलियों ने प्रेस नोट जारी कर दी जानकारी

80

8 लाख के इनामी नक्सली कट्टी मोहन राव की हार्ट अटैक से मौत… नक्सलियों ने प्रेस नोट जारी कर दी जानकारी

के. शंकर @ सुकमा। कोरोना काल में नक्सली संगठन को भी लगातार क्षति हो रही है। कई नक्सलियों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है। वहीं अब एक माओवादी लीडर की हार्ट अटैक से मौत हुई है।

नक्सलियों ने प्रेस नोट जारी कर इसकी जानकारी दी। दण्डकारण्य क्षेत्र में सक्रिय रहे 8 लाख रुपए के इनामी नक्सली कट्टी मोहन राव की हार्ट अटैक से मौत हो गई है। कई बीमारियों से ग्रसित कट्टी मोहन राव की 10 जून की सुबह 11:30 बजे मौत हुई है।

यह भी पढ़ें :  नक्सलियों ने स्टेट हाईवे पर काटी सड़क, जवानों ने आवागमन बहाल किया

प्रेसनोट में नक्सलियों ने लिखा है कि कट्टी मोहन राव लंबे समय से बीमारी से जूझ रहा था। माओवादी लीडर की मौत के बाद तेलंगाना के जंगलों में पीएलजीए के द्वारा विशाल जुलूस निकाल कर उनका अंतिम संस्कार किया गया।

नक्सली कट्टी मोहन राव वर्तमान में DVC मेंबर था, जो तेलंगाना और छत्तीसगढ़ के दक्षिण बस्तर क्षेत्र में बीते कई सालों से सक्रिय रह कर काम कर रहा था। कुख्यात माओवादी अपने आधार इलाके में प्रकाश उर्फ दामू दादा के नाम से भी चर्चित था।

यह भी पढ़ें :  कलेक्टर ने किया निरीक्षण तो दफ्तर से गायब मिले 39 कर्मचारी, नोटिस जारी

माओवादियों ने तेलुगु भाषा में जारी प्रेसनोट में लिखा है कि कट्टी मोहन राव लंबे समय से अस्थमा, बीपी व शुगर जैसी गंभीर बीमारियों से पीड़ित था।पीएलजीए के डॉक्टरों द्वारा उनका इलाज किया जा रहा था। इसी बीच 10 जून को दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हो गई।

माओवादी कट्टी मोहन राव को नक्सली संगठन का विस्तार करने के लिए छतीसगढ़ के दक्षिण बस्तर के जंगलों में भेजा गया था। साल 2008 के बाद से वह इस क्षेत्र में सक्रिय था। संगठन में लाल लड़ाकों की भर्ती और संगठन को मजबूती देने की जिम्मेदारी उसकी थी। क्षेत्र में सालों से सक्रिय नक्सली लीडर की छतीसगढ़ पुलिस भी लंबे समय से तलाश कर रही थी।

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़-तेलंगाना बार्डर पर पुलिस-नक्सली मुठभेड़… 3 माओवादियों के मारे जाने की खबर