महिला नक्सली के शव की सुपुर्दगी पर अटकी बात… गांव से पहुंची महिलाओं ने की शव की शिनाख्त, पुलिस ने कहा…

102
Talk on the delivery of the body of a female naxalite

महिला नक्सली के शव की सुपुर्दगी पर अटकी बात… गांव से पहुंची महिलाओं ने की शव की शिनाख्त, पुलिस ने कहा…

पंकज दाऊद @ बीजापुर। इशुलनार और पुन्नूर के जंगल में बुधवार को मुठभेड़ में मारी गई महिला नक्सली की शिनाख्त उसके परिजनों मंगली कुरमस के रूप में कर दी है लेकिन अब उसके शव की सुपुर्दगी को लेकर बात अटक गई है।

सूत्रों के मुताबिक कोतवाली क्षेत्र के इशुलनार एवं पुन्नूर के जंगल में डीआरजी, एसटीएफ, कोबरा एवं सीआरपीएफ के जवानों की नक्सलियों के साथ बुधवार को मुठभेड़ हुई। इसमें एक मिलिट्री प्लाटून नंबर 11 की महिला नक्सली मारी गई। मौके से पुलिस ने हथियार एवं विस्फोटक बरामद किए।

यह भी पढ़ें :  बाढ़ का कहर: एक हफ्ते से टापू बना य​ह गांव, राशन और दवा लेकर पहुंचे अफसर... गांव तक जाने बोट ही एकमात्र सहारा

Read More:

 

बताया गया है कि नक्सली का शव बुधवार की शाम को जिला मुख्यालय लाया गया। गुरूवार को मनकेली गांव से 60 से अधिक महिलाएं पहुंची और उसकी शिनाख्त की। मंगली कुरमस पिता सोमा की मां सनके कुरसम बुधवार को शव लेने आई लेकिन उसके पास ना तो आधार कार्ड और राशन कार्ड और ना ही वोटर कार्ड था।

यह भी पढ़ें :  IED ब्लास्ट में BSF का जवान घायल, मुठभेड़ में कई नक्सलियों को गोली लगने की खबर!

पुलिस ने उसे इन कागजातों के पेश होने पर ही शव को सुपूर्द करने की बात की। पुलिस ने गांव से ये कागजात लाने की सलाह उसकी मां को दी।

Read More:

पुलिस का कहना है कि ये दस्तावेज प्रस्तुत किए जाने पर ही शव सुपुर्द किया जा सकता है। ज्ञात हो कि मनकेली से महिलाएं सुबह 6 बजे पैदल निकली थीं और 11 बजे यहां पहुंची। इधर, शव का पीएम किया जा रहा है।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…
यह भी पढ़ें :  बाजार में अब मशरूम खरीदने की लगी होड़, किसानों को लुभाने लगा है ये जादुई कारोबार