एड़समेटा मुठभेड़: सुरक्षाबलों ने घबराहट में गोली चलाई, जिससे ग्रामीण मारे गए… न्यायिक जांच आयोग की रिपोर्ट विधानसभा में पेश

1038
Adasmeta encounter report tabled in assembly

एडसमेटा मुठभेड़: सुरक्षाबलों ने घबराहट में गोली चलाई, जिससे ग्रामीण मारे गए… न्यायिक जांच आयोग की रिपोर्ट विधानसभा में पेश

रायपुर @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले के एडसमेटा में हुई कथित मुठभेड़ फर्जी थी। करीब एक दशक बाद एडसमेटा विशेष न्यायिक जांच आयोग की रिपोर्ट में इसका सच सामने आया है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोमवार को न्यायिक जांच आयोग की रिपोर्ट विधानसभा के पटल पर रखी। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि एडसमेटा में हुई मुठभेड़ फर्जी थी। सुरक्षाबल के जवानों ने बीज पंडुम का त्योहार मना रहे आदिवासियों पर घबराहट में गोली चलाई थी। इस फायरिंग में 8 ग्रामीणों की मौत हुई थी।

यह भी पढ़ें :  राहुल गांधी का छत्तीसगढ़ दौरा: बीजापुर में भी गुजारेंगे वक्त! शेड्यूल अभी तय नहीं

Adasmeta encounter report tabled in assembly

रिपोर्ट में बताया गया कि 17-18 मई 2013 की दरमियानी रात एडसमेटा गांव में बीज पंडुम का त्योहार मनाने के लिए ग्रामीण एकत्रित हुए थे। इसी दौरान पास से गुजरते हुए जवानों ने लोगों का जमावड़ा देखा और ग्रामीणों को संभवत: नक्सली मानते हुए भीड़ की ओर फायर करना शुरू कर दिया।

रिपोर्ट में साफ तौर पर कहा गया है कि जवानों द्वारा गोलीबारी आत्मरक्षार्थ नहीं की गई थी। ऐसे कोई भी तथ्य व प्रमाण नहीं मिले हैं, जिससे साबित हो सके कि ग्रामीणों की ओर से सुरक्षाबलों पर गोली चलाई गई हो अथवा किसी तरह का हमला किया गया हो।

यह भी पढ़ें :  भाजपा नेता ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, घर में फंदे पर लटका मिला शव... मोहल्ले के लोगों ने पुलिस को दी सूचना

Adasmeta encounter report tabled in assembly

न्यायिक जांच आयोग ने अपनी जांच में यह माना है कि जवानों द्वारा ग्रामीणों को पहचानने में हुई गलती के चलते यह फायरिंग की गई। वहीं सुरक्षाबलों की घबराहट भी इसकी एक वजह थी।

आयोग ने इस बात को भी माना है कि सुरक्षाबलों के पास पर्याप्त सुरक्षा उपकरण, आधुनिक संचार के साधन और बेहतर प्रशिक्षण होता तो इस तरह की घटना को रोका भी जा सकता था।

 

 

यह भी पढ़ें :  बीजापुर में ASI लापता... छुट्टी पर जाने निकले थे घर, लावारिस हालत में मिली बाइक, ASI का पता नहीं... नक्सली वारदात की आशंका !