नक्सलगढ़ की 2 आदिवासी छात्राओं को सरकारी खर्च में MBBS कराएगी भूपेश सरकार… CM ने दिए ये निर्देश

28

नक्सलगढ़ की 2 आदिवासी छात्राओं को सरकारी खर्च में MBBS कराएगी भूपेश सरकार… CM ने दिए ये निर्देश

रायपुर/दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। तकनीकी त्रुटि के कारण नीट 2020 क्वालिफाई होने के बावजूद मेडिकल कॉलेज में प्रवेश से वंचित दक्षिण बस्तर की दो होनहार छात्राओं का भविष्य अब सरकार संवारेगी।

सीएम भूपेश बघेल की संवेदनशील पहल के चलते इन छात्राओं का निजी मेडिकल कॉलेज में दाखिला कराया जाएगा, वहीं इनकी पढ़ाई का पूरा खर्च भी राज्य सरकार उठाएगी। मुख्यमंत्री ने ऐसे सभी होनहार बच्चों के एमबीबीएस मे दाखिला के लिए जिला प्रशासन को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए है।

Read More:

 

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में रविवार से सड़कों पर दौड़ने लगेगी यात्री बसें, बस ऑपरेटर्स ने किया ऐलान...अभी सिर्फ 10% बसें ही चलेंगी, जानिए क्या है वजह !

आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के बाद यह पहला मौका है जब एमबीबीएस के लिए निजी काॅलेजों के पेमेंट सीट में बच्चों को राज्य सरकार के खर्च पर दाखिला दिलाया जाएगा। सीएम भूपेश बघेल ने कहा है कि किसी भी बच्चे के भविष्य के साथ कोई समझौता नही होना चाहिए।

तकनीकी समस्या ने डाला रोड़ा

दंतेवाड़ा जिले के 27 होनहार छात्र-छात्राओं ने नीट क्वालिफाई किया, लेकिन नेटवर्क प्राब्लम के चलते प्रथम काउंसलिंग में उनका रजिस्ट्रेशन नहीं हो सका था। वहीं प्रथम काउंसलिंग के बाद इसमें दो छात्रा कुमारी पदमा मडे और पीयूषा बेक एमबीबीएस में प्रवेश की पात्रता रखती हैं। सीएम के निर्देश पर कलेक्टर दंतेवाड़ा द्वारा इन छात्राओं का प्रदेश के निजी कालेजों में दाखिले की कार्यवाही की जा रही है।

यह भी पढ़ें :  जमीन किसानों की, फसल पूंजीपतियां की ! नई दिल्ली के आंदोलन के समर्थन में कांग्रेस की ट्रैक्टर रैली

Read More:

 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने यह भी कहा कि आगे भी यदि इनमें से कोई छात्र कटअप के बाद प्रवेश के लिए पात्र पाया जाता है तो उन्हें भी निजी कालेजों की पेमेंट सीट पर दाखिला दिलाया जाएगा और इसका खर्च राज्य सरकार वहन करेगी।

यह भी पढ़ें :  सड़े धान की खरीदी, 31 जनवरी के बाद भी आवक… भाजपा ने लैम्पस मैनेजर के खिलाफ  खोला मोर्चा, कार्रवाई की मांग

विधायक ने कहा शुक्रिया

मुख्यमंत्री बघेल की इस घोषणा से आदिवासी अंचल की दो आदिवासी छात्राओं की मेडिकल की पढ़ाई का सपना पूरा होगा। वहीं शेष छात्र-छात्राओं का भी उनकी अंक एवं योग्यता के आधार पर अच्छे से अच्छे कॉलेजों में उच्च शिक्षा हेतु दाखिला करवाया जाएगा। इस पहल के लिए क्षेत्रीय विधायक देवती महेन्द्र कर्मा ने सीएम को धन्यवाद ज्ञापन किया है।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…


खबर बस्तर के WhatsApp ग्रुप में जुड़ने के लिए इस Link को क्लिक कीजिए…